Follow Us On Goggle News

PNB के ग्राहकों के लिए बड़ी खबर ! बैंक ने चेक रिटर्न फीस और लॉकर रेंट पेनल्टी सहित कई चार्ज बढ़ाया, 29 मई से होगा लागू.

इस पोस्ट को शेयर करें :

PNB Service Charges Hike : पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने कहा है कि उसने अपने नॉन-क्रेडिट संबंधित सर्विस चार्ज में बदलाव किया है, जो 29 मई, 2022 से प्रभावी होगा.

 

PNB Service Charges : अगर आपका बचत खाता (Savings Account) सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में है तो यह खबर आपके काम की है. दरअसल, 29 मई, 2022 से पीएनबी (PNB) के नॉन-क्रेडिट संबंधित सर्विस चार्जेज बदल जाएंगे. इन सर्विस चार्जेस में बैंक द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाले मल्टी-सिटी चेक बुक जारी करना, एक साल में फ्री टांजैक्शन की संख्या, लॉकर रेंट चार्जेज में बदलाव, बचत खाता में प्रति माह फ्री ट्रांजैक्शन आदि शामिल हैं. सर्विस चार्ज में बदलाव का असर बैंक के बचत खाता ग्राहकों पर पड़ेगा. अब उन्हें कुछ सर्विस के लिए ज्यादा चार्ज चुकाने होंगे.

 

चेक रिटर्न चार्जेज :

PNB ने 10 लाख रुपये के आउटवर्ड रिटर्निंग चार्ज के लिए एक नया स्लैब बनाया है. अब 10 लाख रुपये का आउटवर्ड रिटर्निंग चार्ज 500 रुपये प्रति इंस्ट्रूमेंट होगा, जो पहले यह 1 लाख रुपये से ऊपर के प्रति इंस्ट्रूमेंट के लिए 250 रुपये था.

यह भी पढ़ें :  PM मोदी ने दी बड़ी दिवाली गिफ्ट! आज से सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल, जानिए बिहार में आज क्या है कीमत | Petrol-Diesel Price Today

 

आउटस्टेशन चेक के लिए होंगे ये चार्जेज :

आउटस्टेशन रिटर्निंग के मामले में भी चार्जेस में बदलाव किया गया है. अब 1 लाख रुपये तक का चार्ज 150 रुपये प्रति इंस्ट्रूमेंट होगा. 1 लाख रुपये से 10 लाख तक यह 250 रुपये प्रति इंस्ट्रूमेंट होगा. वहीं 10 लाख रुपये से ज्यादा के मामले में यह 500 रुपये इंस्ट्रूमेंट होगा.

 

फ्री चेक की संख्या घटी :

PNB ने फ्री चेक लीफ की संख्या घटा दी है. पहले बचत खाताधारकों को एक वित्त वर्ष में 25 लीफ वाली चेकबुक फ्री में मिलती थी. अब 29 मई से 20 लीफ वाली चेकबुक फ्री मिलेगी.

 

बचत खाते में अधिकतम मुफ्त लेनदेन :

एक वित्तीय वर्ष में कुल 50 डेबिट ट्रांजैक्शन फ्री हैं. अब 50 फ्री डेबिट ट्रांजैक्शन के बाद आपसे प्रत्येक लेनदेन पर 10 रुपये का चार्ज लिया जाएगा.

 

बचत बैंक खाते :

जमा के लिए कैश हैंडलिंग चार्जेज ट्रांजैक्शन के आधार बेस और नॉन-बेस ब्रांच पर लागू होता है. हर महीने 3 फ्री ट्रांजैक्शन होंगे (BNA, ATM और CDM जैसे वैकल्पिक चैनलों के माध्यम से). प्रति दिन 1 लाख रुपये तक फ्री है और 1 लाख रुपये से अधिक न्यूनतम 50 रुपये प्रति हजार चार्ज लगेंगे.

यह भी पढ़ें :  Sell Old Coin and Note: एक पुराना सिक्का या नोट आपको बना सकता है करोड़पति! ये है तरीका.

 

लॉकर रेंट जुर्माना के लिए प्रस्तावित शुल्क :

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ने बैंक लॉकर रेंट जुर्माना में बदलाव किया है. नए प्रस्तावित शुल्क के अनुसार 1 साल तक की देरी, सालाना किराए का 25 फीसदी जुर्माना लगेगा. 1 साल से 3 साल तक की देरी सालाना किराए का 50 फीसदी जुर्माना लगेगा, जबककि 3 साल से अधिक देरी होने पर बैंक लॉकर तोड़ देगा.

 

लॉकर्स के लिए एडवांस किराया वसूली पर छूट :

नए प्रस्तावित नियम के अनुसार एडवांस लॉकर किराया जमा करने पर कोई छूट नहीं है. पहले, पहले 5 वर्षों के लिए एडवांस किराया जमा करने पर 20 फीसदी की छूट मिलती थी. हालांकि बैंक ने 5 साल के लिए एडवांस लॉकर किराया के भुगतान पर इनसेंटिव मिलेगा. PNB के नए बदलाव के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page