Follow Us On Goggle News

Online Fraud Safety Tips : एक कोड डालते ही खाली हो रहे अकाउंट, SBI की चेतावनी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Online Fraud Safety Tips : स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने ग्राहकों के लिए चेतावनी जारी करते हुए UPI PIN के सही इस्तेमाल को लेकर कुछ टिप्स जारी किए हैं. इनके जरिए आप ऑनलाइन फ्रॉड से बच सकते हैं.

 

Online Fraud Safety Tips : कोरोना महामारी के बाद से ऑनलाइन पेमेंट (Online Payment) का चलन काफी बढ़ गया है. साथ ही उसी तेजी से ऑनलाइन फ्रॉड (Online Fraud) के मामले भी सामने आ रहे हैं. ऑनलाइन भुगतान करते समय काफी सावधानी बरतना बहुत जरूरी है. ऑनलाइन धोखाधड़ी में सबसे महत्वपूर्ण कारक UPI PIN होता है. इस एक पिन के कारण आपका बैंक अकाउंट खाली हो सकता है. 

 

बैंक लगातार लोगों को ऑनलाइन धोखाधड़ी से सुरक्षित रहने के बारे में सूचित कर रहे हैं. हाल ही में भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को यूपीआई पिन के सही इस्तेमाल के बारे में बताया है. एसबीआई ने कहा है कि लोगों को ऑनलाइन पेमेंट करते समय ही यूपीआई पिन डालना होगा. साथ ही बैंक ने कुछ टिप्स का खुलासा किया, जिनका उपयोग ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचने के लिए किया जा सकता है. 

यह भी पढ़ें :  SBI Bank Alert : एसबीआई ने ग्राहकों को किया अलर्ट ! एटीएम फ्रॉड से बचना है तो OTP के जरिए निकालें पैसे, यहां जानिए पूरा प्रोसेस.

 

 

 

क्या होता है UPI:

UPI का मतलब यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस होता है. नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के अनुसार, यह रियल टाइम पेमेंट सिस्टम है जो एक मोबाइल प्लेटफॉर्म के जरिए दो बैंक खातों में फंड ट्रांसफर की सुविधा देता है. इस फीचर की मदद से आपके स्मार्टफोन को वर्चुअल डेबिट कार्ड की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है. आप UPI की मदद से पैसे भी प्राप्त कर सकते हैं और भेज सकते हैं. पैसे भेजने के लिए आपके एक UPI PIN डालना होता है. 

UPI PIN के जरिए हो रहे फ्रॉड से ऐसे बचने के टिप्स :

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने यूपीआई फ्रॉड से बचने के लिए जो टिप्स बताए हैं वो इस प्रकार हैं:

यह भी पढ़ें :  Petrol-Diesel Price : इस राज्य में 25 रुपये सस्‍ता हुआ पेट्रोल, जानिए किसे मिलेगा सस्ते तेल का फायदा.

1. UPI पिन की जरूरत सिर्फ पैसे भेजने के लिए होती है, पैसे प्राप्त करने के लिए नहीं. 
2. पैसा भेजने से पहले हमेशा मोबाइल नंबर, नाम और यूपीआई आईडी वेरिफाई करें.
3. अपना UPI पिन किसी के साथ शेयर न करें
4. फंड ट्रांसफर के लिए स्कैनर का इस्तेमाल करने की कोशिश करें
5. किसी भी समाधान के लिए आधिकारिक वेबसाइट्स का ही इस्तेमाल करें. 
6. किसी भी पेमेंट या तकनीकी समस्या के लिए ऐप के Help सेक्शन का इस्तेमाल करें या बैंक के कंप्लेंट पोर्टल पर जाएं. 


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page