Follow Us On Goggle News

NPS : पेंशनरों के लिए बड़ी खुशखबरी ! जल्द मिल सकती है ये बड़ी सौगात, जानिए क्या है सरकार का प्लान.

इस पोस्ट को शेयर करें :

National Pension System Assured Returns : नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) ले चुके या लेने की सोच रहे लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है. उनके लिए अब इस स्कीम में इन्वेस्ट करना और आकर्षक होने जा रहा है. इसके लिए अगले महीने बड़ी घोषणा हो सकती है.

 

 

NPS Assured Return Scheme : अगर आपने अपने सुरक्षित भविष्य के लिए नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) की कोई स्कीम ले रखी है या लेने वाले हैं तो अब आप फायदे में रहने वाले हैं. दरअसल पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (PFRDA) ने अब NPS में गारंटीशुदा पेंशन कार्यक्रम पेश करने जा रहा है. माना जा रहा है कि यह स्कीम 30 सितंबर से शुरू हो सकती है. इसका फायदा देश के करोड़ों लोगों को होगा और नेशनल पेंशन में आवेदन करने वालों की संख्या में भी उछाल आएगा. 

 

 

’30 सितंबर से शुरू हो सकती है नई पेंशन स्कीम’

यह भी पढ़ें :  Business Ideas : प्रदूषण जांच केंद्र खोलकर करें कमाई ! सरकार दे रही तीन लाख रुपए का अनुदान, यहां करें आवेदन.

PFRDA के अध्यक्ष सुप्रतिम बंद्योपाध्याय ने इस बारे में विस्तार से जानकारी दी. उन्होंने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में कहा, ‘नेशनल पेंशन सिस्टम में अब न्यूनतम सुनिश्चित रिटर्न योजना पर काम चल रहा है. यानी एक आकर्षक धनराशि निवेशकों को हर हाल में मिल ही जाए. संभावना है कि हम इसे 30 सितंबर से शुरू कर सकते हैं.’

 

 

‘निवेशकों को सुरक्षित रिटर्न देने की कोशिश’

बंद्योपाध्याय ने कहा, ‘पिछले 13 साल में नेशनल पेंशन सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए काफी काम किया है. इस दौरान हमने 10.27 प्रतिशत की दर से वार्षिक चक्रवृद्धि ब्याज दिया है. हमने हमेशा निवेशकों को मुद्रास्फीति के लिहाज से संरक्षित रिटर्न दिया है.’’

 

 

रुपये में गिरावट और बढ़ती मुद्रास्फीति पर PFRDA के अध्यक्ष ने कहा कि अथॉरिटी इन सब बातों से पूरी तरह अवगत है. हमने NPS को इस तरह से डिजाइन किया है कि निवेशकों को हर हाल में सुरक्षित रिटर्न मिल सके. 

यह भी पढ़ें :  Motor Insurance Rules : अगर आपके पास हैं कई गाड़ियां तो भी एक ही इंश्योरेंस से चल जाएगा काम, जानिए क्या है नया नियम.

 

’35 लाख करोड़ का मौजूदा पेंशन फंड’

उन्होंने कहा कि देश में मौजूद पेंशन फंड की बात की जाए तो यह 35 लाख करोड़ रुपये की है. इसमें से 22 फीसदी यानी कुल 7.72 लाख करोड़ रुपये NPS के पास है. वहीं EPFO 40 फीसदी हिस्से का प्रबंधन करता है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page