Follow Us On Goggle News

MIS Saving Schemes : इस सरकारी स्कीम में हर महीने होगी आपकी कमाई, पैसा भी रहेगा पूरी तरह सुरक्षित.

इस पोस्ट को शेयर करें :

MIS Saving Investment Schemes : पोस्ट ऑफिस की स्मॉल सेविंग स्कीम्स में पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (MIS) भी शामिल है. आइए इस स्कीम के बारे में डिटेल में जानते हैं.

 

MIS Saving Schemes : अगर आप आने वाले दिनों में निवेश करने की सोच रहे हैं, तो पोस्ट ऑफिस की सेविंग्स स्कीम्स (Saving Schemes) में कर सकते हैं. इन स्कीम्स में आपको अच्छा रिटर्न तो मिलता ही है. साथ में, इसमें निवेश (Investment) किया गया पैसा भी पूरी तरह सुरक्षित रहता है. अगर बैंक डिफॉल्ट (Bank Default) होता है, तो आपको पांच लाख रुपये की ही राशि वापस मिलती है. लेकिन डाकघर (Post Office) में ऐसा नहीं है. इसके अलावा पोस्ट ऑफिस की सेविंग्स स्कीम्स में बेहद कम राशि से निवेश शुरू किया जा सकता है. पोस्ट ऑफिस की स्मॉल सेविंग स्कीम्स में पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (MIS) भी शामिल है. आइए इस स्कीम के बारे में डिटेल में जानते हैं.

यह भी पढ़ें :  Multibagger Stocks: 1 लाख के बने 4.5 करोड़ रुपये, 25 रुपये से 11,000 के पार पहुंचा गया शेयर.

ब्याज दर :

पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम में मौजूदा समय में 6.6 फीसदी की ब्याज दर मौजूद है. यह ब्याज दर 1 अप्रैल 2020 से लागू है. इस स्मॉल सेविंग्स स्कीम में ब्याज का भुगतान मासिक आधार पर किया जाता है.

 

निवेश की राशि :

डाकघर की मंथली इनकम स्कीम में व्यक्ति 1000 रुपये के मल्टीपल में निवेश कर सकता है. इस छोटी बचत योजना में सिंगल अकाउंट में अधिकतम 4.5 लाख रुपये और ज्वॉइंट अकाउंट में 9 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है. मंथली इनकम स्कीम में एक व्यक्ति अधिकतम 4.5 लाख रुपये का निवेश कर सकता है. इसमें ज्वॉइंट अकाउंट में उसका हिस्सा शामिल है. ज्वॉइंट अकाउंट में एक व्यक्ति की हिस्सेदारी को कैलकुलेट करते समय, हर ज्वॉइंट होल्डर का ज्वॉइंट अकाउंट में बराबर हिस्सा होगा.

 

कौन खोल सकता है अकाउंट?

पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में एक वयस्क या तीन वयस्क तक साथ मिलकर ज्वॉइंट अकाउंट खोल सकते हैं. इसके अलावा इस स्मॉल सेविंग्स स्कीम में नाबालिग या कमजोर दिमाग के व्यक्ति की ओर से अभिभावक भी खाता खोल सकता है. इसके साथ 10 साल से ज्यादा उम्र का नाबालिग अपने खुद के नाम में भी खाता खोल सकता है.

यह भी पढ़ें :  7th Pay Commission : बड़ी खुशखबरी ! सरकारी कर्मचारियों के खाते में आया बकाया DA एरियर का पैसा, फटाफट चेक करें अपना अकाउंट.

 

मैच्योरिटी :

पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम में अकाउंट को खोलने की तारीख से पांच साल की अवधि खत्म होने के बाद बंद किया जा सकता है. इसके लिए व्यक्ति को संबंधित पोस्ट ऑफिस में पासबुक के साथ उपयुक्त ऐप्लीकेशन फॉर्म जमा करना होगा. अगर खाताधारक की मौत मैच्योरिटी से पहले हो जाती है, तो अकाउंट को बंद किया जा सकता है और राशि उसके नॉमिनी या कानूनी उत्तराधिकारी को रिफंड कर दी जाएगी. ब्याज का भुगतान जिस महीने में रिफंड किया गया है, उससे पिछले महीने तक होगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page