Follow Us On Goggle News

LIC IPO: एलआईसी के इन पॉलिसीधारकों को नहीं मिलेगा आईपीओ में आरक्षण का लाभ.

इस पोस्ट को शेयर करें :

LIC IPO: एलआईसी आईपीओ LIC IPO का देश के लाखों लोग काफी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं एलआईसी LIC IPO ने जब से अपनी आईपीओ को लेकर घोषणा की है तब से पॉलिसी खरीदने वाले एवं स्टॉक खरीदने वाले लोगों में काफी उत्साह देखने को मिला है। हाल ही में एलआईसी ने कई समाचार पत्रों में एक अधिसूचना जारी की है। इसके अनुसार एलआईसी आईपीओ में पॉलिसी धारकों के लिए आरक्षण की व्यवस्था की गई है।

 

इस अधिसूचना में एलआईसी आईपीओ में भाग लेने के लिए पॉलिसी धारकों के लिए कुछ मापदंड को पूरा करने को कहा गया है। इसमें 13 फरवरी 2022 को और बोली/प्रस्ताव खुलने की तिथि पर निगम की एक या एक से अधिक पॉलिसी रखने वाले निगम के व्यक्तिगत पॉलिसी धारक इसके पात्र होंगे।

 

पॉलिसी धारकों के पैन की जानकारी 28 फरवरी 2022 को या उससे पूर्व निगम के होनी चाहिए। इसके साथ ही पॉलिसी धारकों को डीमैट खाता खोलने को कहा गया है। डीमैट खाता खुलवाने हेतु आप नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर जा सकते हैं या डीमैट खाता खुलवाने के लिए आप ऑनलाइन एनएसडीएल अथवा सीडीएसएल की वेबसाइट पर जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें :  LIC IPO: आ रहा हैं देश का सबसे बड़ा आईपीओ : एलआईसी आईपीओ, जानें पूरी डिटेल्स.

 

d12734 1 1 LIC IPO: एलआईसी के इन पॉलिसीधारकों को नहीं मिलेगा आईपीओ में आरक्षण का लाभ.

देश की सबसे बड़ी सरकारी बीमा कंपनी LIC IPO के आईपीओ में उम्मीद लगाए निवेशकों को बड़ा झटका लगा है। एलआईसी के बयान के मुताबिक प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) के बीमाधारकों को आईपीओ में आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा। कंपनी का कहना है कि पीएमजेजेबीवाई एक ग्रुप इंश्योरेंस स्कीम है। इस कारण पीएमजेजेबीवाई के बीमाधारक आरक्षण के लाभ का पात्र नहीं होंगे।

 

सोमवार को एलआईसी आईपीओ LIC IPO को लेकर मीडिया से बातचीत करते हुए एलआईसी के चेयरमैन एमआर कुमार ने कहा था कि एलआईसी पीएमजेजेबी के सभी बीमाधारक आईपीओ में पॉलिसीधारकों के लिए निर्धारित आरक्षण कोटे के पात्र होंगे। जिसके बाद एलआईसी का स्पष्टीकरण के रूप में यह बयान आया है।

निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) के सचिव तुहीन कांता पांडे ने कहा था कि एलआईसी आईपीओ में 10 फीसदी तक का कोटा पॉलिसीधारकों के लिए आरक्षित किया जा सकता है। इस कोटे के तहत पॉलिसी धारकों को आईपीओ में बोली लगाने पर विशेष छूट दी जाएगी। जिसके बाद से निवेशकों में एलआईसी के आईपीओ को लेकर उत्साह है।

यह भी पढ़ें :  SIP में न‍िवेश का शानदार मौका ! लॉन्‍च हुई 100 रुपए की एसआईपी, इन लोंगो को होगा फायदा.

 

LIC IPO मार्च में आ सकता है आईपीओ:

देश के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि एलआईसी के आईपीओ को लेकर बाजार में काफी उत्साह और निवेशकों के बीच रुचि है। एलआईसी के ड्राफ्ट पेपर सेबी के पास जमा हो चुके हैं और जल्द ही हम बाजार में एलआईसी का आईपीओ लेकर आएंगे।

LIC IPO देश का सबसे बड़ा आईपीओ:

सरकार विनिवेश के लक्ष्य को पूरा करने के लिए शेयर बाजार में एलआईसी की 5 फीसदी हिस्सेदारी आईपीओ के जरिए बेच रही है। बाजार के जानकारों का कहना है कि एलआईसी के आईपीओ का साइज 65 हजार करोड़ रुपए से बड़ा हो सकता है। इस तरह देखें तो नवंबर में पेटीएम के 18300 करोड़ के आईपीओ के बाद यह देश का सबसे बड़ा आईपीओ होगा।

LIC IPO दुनिया बड़ी बीमा कंपनियों भी शामिल:

सेबी के पास जमा कराए ड्राफ्ट पेपर के मुताबिक, वित्त वर्ष 2021 तक एलआईसी के पास 507 बिलियन अमेरिकी डॉलर की संपत्ति है। जो इसे दुनिया की आठवीं सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी बनाता है। दिसंबर 2020 के आंकड़ों के मुताबिक संपत्ति के लिहाज से दुनिया में चीन की इंश्योरेंस कंपनी पिंग एन इंश्योरेंस 1.38 ट्रिलियन डॉलर के साथ दुनिया की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी है। इसके बाद जर्मनी की एलायंज एसई 1.27 ट्रिलियन डॉलर और फ्रांस की एक्सा एसए के पास 965 बिलियन डॉलर की संपत्ति है। जबकि अमेरिका की मेटलाइफ आईएनसी, जापान की निप्पोन लाइफ इंश्योरेंस, ब्रिटेन की अवीवा पीएलसी और चीन लाइफ इंश्योरेंस के पास क्रमशः 795, 705, 657 और 616 बिलियन अमेरिकी डॉलर की संपत्ति है।


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page