Follow Us On Goggle News

ITR E-Verification : टैक्सपेयर्स के लिए जरूरी खबर! फटाफट करें ये जरूरी काम वरना बन जाएंगे नॉन-फाइलर, आखिरी तारीख कल.

इस पोस्ट को शेयर करें :

ITR E-Verification Last Date : इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) की प्रक्रिया पूरी करने के लिए आईटीआर दाखिल करने के बाद आपको ई-वेरिफाई (E-Verify) करना जरूरी है. यदि तय समय सीमा में ITR वेरिफाई नहीं किया जाता तो इसे इनवैलिड माना जाता है. रिटर्न ई-वेरिफाई करने की लास्ट डेट कल या 28 फरवरी है.

 

ITR E-Verification Last Date : कमाने वाले हर व्यक्ति को आयकर रिटर्न (ITR) दाखिल करना जरूरी है. चाहे आप इनकम टैक्स के दायरे में आते हों या नहीं, आईटीआर जरूर भरना चाहिए. इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) की प्रक्रिया पूरी करने के लिए आईटीआर दाखिल करने के बाद आपको ई-वेरिफाई (E-Verify) करना भी जरूरी है. यदि तय समय सीमा में ITR वेरिफाई नहीं किया जाता तो इसे इनवैलिड माना जाता है.

 

ई-वेरिफाई की लास्ट डेट कल यानी 28 फरवरी है. यानी आपक हर हाल में कल से पहले ई-वेरिफाई करना जरूरी है. आप अपने आधार कार्ड के जरिए आसानी से आईटीआर ई-वेरिफाई कर सकते हैं. आइए जानते हैं ऑनलाइन आईटीआर फाइल करने के बाद ई-वेरिफाई करने का आसान तरीका. 

यह भी पढ़ें :  Tax on Crypto : क्रिप्टो में गिफ्ट लेने या देने से पहले एक बार सोच लें, हर ट्रांजैक्शन पर इतना देना होगा टैक्स

 

इन तरीकों से कर सकते हैं आईटीआर ई-वेरीफाई :

1. आधार ओटीपी के जरिए
2. नेट बैंकिंग के जरिए ई-फाइलिंग अकाउंट में लॉग इन कर
3. बैंक अकाउंट नंबर के जरिए ईवीसी
iv. डीमैट खाता संख्या के जरिए ईवीसी
v. बैंक एटीएम के जरिए ईवीसी
vi. सीपीसी, बेंगलुरु को डाक के जरिए ITR-V की साइन कॉपी भेजकर.

 

आधार के जरिए आईटीआर ई-वेरीफाई करने का तरीका :

स्टेप 1: अपने ई-फाइलिंग खाते के एक्सेस के लिए https://www.incometax.gov.in पर जाएं.
स्टेप 2: क्विक लिंक के तहत ई-वेरिफाई रिटर्न ऑप्शन सेलेक्ट करें.
स्टेप 3: इसमें आधार के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी का उपयोग करके वेरिफाई करना सलेक्ट करें. फिर ई-वेरिफाई स्क्रीन पर क्लिक करें.
स्टेप 4: आधार ओटीपी स्क्रीन पर चेक किए गए ‘आधार डिटेल को वेरिफाई करने के लिए सहमत हूं’ को सलेक्ट करें. फिर आधार ओटीपी जेनरेट करें पर क्लिक करें.
स्टेप 5: अपने आधार-रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजे गए 6 अंकों के ओटीपी को एंटर करने के बाद मान्य (Validate) पर क्लिक करें.
स्टेप 6: याद रखें कि यह ओटीपी सिर्फ 15 मिनट के लिए वैलिड है. आपको सही ओटीपी दर्ज करने के लिए तीन मौके दिए जाएंगे. स्क्रीन पर आपको एक ओटीपी एक्सपायरी काउंटडाउन टाइमर भी दिखेगा, जो ओटीपी के आने पर आपको सूचित करेगा. वहीं जब आप Resend OTP पर क्लिक करेंगे तो एक नया OTP जेनरेट होगा और आपको मिलेगा.
स्टेप 7: अब सक्सेस मैसेज और ट्रांजेक्शन आईडी वाला पेज आएगा. आगे इस्तेमाल के लिए ट्रांजेक्शन आईडी को संभाल कर रखें. आपने फाइलिंग पोर्टल पर जो ई-मेल और मोबाइल नंबर दिया था उसपर एक कंफर्मेशन मैसेज भी भेजा जाएगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page