Follow Us On Goggle News

HDFC Car Loan : बस आधे घंटे में मिलेगा कार लोन ! वह भी बिना कोई कागज दिए, इस बैंक ने शुरू की नई सर्विस.

इस पोस्ट को शेयर करें :

HDFC Car Loan Offer : एचडीएफसी बैंक की एक्सप्रेस कार लोन (Xpress car loan) पूरी तरह से डिजिटल है. लोन अप्लाई से लेकर लोन का पैसा खाते में आने तक, सबकुछ डिजिटल होगा. आपको कोई फॉर्म या कागज भरने की जरूरत नहीं. यह नई सर्विस नए और पुराने दोनों तरह के ग्राहकों के लिए है.

 

HDFC Car Loan Offer : घर बैठे लोन मिलने की बात तो सुनी थी, लेकिन आधे घंटे में कार लोन (Car Loan) मिलने की बात आप जानते हैं? नहीं तो जान लें कि देश के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक ने आपके लिए यह सुविधा शुरू कर दी है. इधर आप डिजिटल प्रोसेस शुरू करेंगे और उधर आधे घंटे में आपके खाते में लोन का पैसा आ जाएगा. उस पैसे से आप मनचाही कार खरीद सकते हैं. यह नई सर्विस एचडीएफसी बैंक ने शुरू की है. यही वो बैंक है जो मात्र 10 सेकंड में डिजिटल पर्सनल लोन (Personal Loan) की सर्विस लाया है. इस लोन सर्विस का नाम है एचडीएफसी एक्सप्रेस कार लोन (HDFC Xpress car loan).

यह भी पढ़ें :  Petrol Diesel Price Today : पेट्रोल-डीजल की कीमतों में उतार-चढ़ाव जारी, जानिए आपके शहर में आज क्या हैं पेट्रोल-डीजल के नए दाम.

 

एचडीएफसी एक्सप्रेस कार लोन पूरी तरह से डिजिटल है. लोन अप्लाई से लेकर लोन का पैसा खाते में आने तक, सबकुछ डिजिटल होगा. आपको कोई फॉर्म या कागज भरने की जरूरत नहीं. यह नई सर्विस नए और पुराने दोनों तरह के ग्राहकों के लिए है. एचडीएफसी बैंक का दावा है कि बाजार में अपने तरह की यह पहली सर्विस है जिसमें 30 मिनट में कार लोन दिया जाता है.

 

एचडीएफसी बैंक की तैयारी :

एचडीएफसी बैंक की तैयारी है कि एक्सप्रेस कार लोन की सुविधा उसके 20-30 परसेंट ग्राहकों को दी जाए. एक्सप्रेस लोन के तहत ग्राहकों को 20 लाख रुपये तक का लोन दिया जाएगा, वह भी सिर्फ 30 मिनट में. एक्सप्रेस लोन की यह सुविधा अभी चार पहिया गाड़ियों पर दी जा रही है. बाद में इसे दो पहिया गाड़ियों के लिए भी शुरू किया जाएगा.

 

ऑटो लोन का बढ़ेगा बाजार :

भारत में ऑटो इंडस्ट्री में तेजी से ग्रोथ जारी है. देसी और विदेशी कंपनियां ऑटो उद्योग में लगातार काम बढ़ा रही हैं. एक आंकड़े के मुताबिक, भारत का ऑटोमोबिल उद्योग दुनिया में तीसरा स्थान प्राप्त करने वाला है. अगले 5-7 साल में भारत यह मुकाम हासिल कर लेगा. फिर हर साल लगभग 3.5 करोड़ नई गाड़ियां बिकेंगी. एक अनुमान के मुताबिक एक दशक के अंदर 350 लाख चार पहिया और 250 लाख दोपहिया गाड़ियां सड़कों पर उतरेंगी. इससे ऑटो लोन का कारोबार तेज होगा. एचडीएफसी बैंक इस अवसर का पूरा फायदा उठाना चाहता है.

यह भी पढ़ें :  Gold Price Today : सोने के भाव में भारी उछाल, फटाफट जानें बिहार में क्या रहा आज का भाव !

 

बायोमेट्रिक से भी मिलता है लोन :

बायोमेट्रिक मशाीन में लोगों के आधार की जानकारी होती है. इस जानकारी के आधार पर लोन बांटने में सुविधा मिल रही है. एचडीएफसी बैंक ने बायोमेट्रिक मशीन से लोन देने का काम शुरू किया है. इसमें आपको कोई कागज देने की जरूरत नहीं होती. गाड़ी डीलर के यहां एचडीएफसी बैंक की बायोमेट्रिक मशीन लगी होती है जिस पर आपको उंगलियों के निशान देने हैं. इससे डीलर और बैंक के पास लेनदार का सारा रिकॉर्ड जाता है और आधे घंटे में लोन का पैसा जारी कर दिया जाता है.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page