Follow Us On Goggle News

HDFC Bank: आने वाले 3 से 5 साल में HDFC बैंक दोगुनी करेगी ब्रांच की संख्या, हर साल खुलेंगे 2000 तक नए ब्रांच

इस पोस्ट को शेयर करें :

HDFC Bank: पिछले वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही में बैंक ने 563 शाखाएं खोलीं थीं और 7,167 कर्मचारियों को अपने साथ जोड़ा. वहीं पूरे वित्त वर्ष में एचडीएफसी बैंक ने 734 शाखाएं खोलीं और 21,486 कर्मचारियों की भर्ती की थी

 

HDFC Bank: एचडीएफसी बैंक एचडीएफसी के साथ मर्जर के बाद अपनी विस्तार योजना को और तेज करने की योजना पर काम कर रहा है. बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ शशिधर जगदीशन ने कहा कि बैंक अगले तीन से पांच वर्षों में अपनी शाखाओं के नेटवर्क को दोगुना करने की योजना पर काम कर रहा है जो हर पांच साल में एक और एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) जोड़ने के बराबर है. योजना के अनुसार बैंक हर साल 1,500 से 2,000 शाखाएं खोलेगा. शेयर होल्डर को लिखे एक खत में जिसमें सीईओ ने एचडीएफसी (HDFC) और एचडीएफसी बैंक के मर्जर को लेकर पक्ष सामने रखा है, जगदीशन ने कहा कि प्रस्तावित मर्जर बिल्कुल नई संभावनाएं खोलने जा रहा है, उन्होने कहा कि अवसर बहुत बड़े हैं, और हम हर पांच साल में एक नया एचडीएफसी बैंक खोलने जितना विस्तार करने की योजना पर काम कर रहे हैं. फिलहाल बैंक की देश भर में 6000 ब्रांच हैं.

यह भी पढ़ें :  Business Ideas: घर पर खोले सुधा बूथ, हर महीने होगी मोटी कमाई.

हर साल खुलेंगे 1500 से ज्यादा नई ब्रांच

विस्तार के पीछे की वजह बताते हुए सीईओ ने कहा कि देश में आबादी के लिए शाखाओं का घनत्व ओईसीडी देशों की तुलना में बहुत कम है. यहीं ब्रांच बैंकिंग की रणनीति की वजह है. आज पूरे भारत में हमारी 6,000 से अधिक शाखाएँ हैं, और हम अगले तीन से पांच साल में हर साल 1,500 से 2,000 शाखाएं खोलकर अपने नेटवर्क को लगभग दोगुना करने की योजना बना रहे हैं. अप्रैल में ही एचडीएफसी और एचडीएफसी बैंक ने मर्जर का ऐलान किया था, जो कि अगले डेढ़ साल में पूरा होने की उम्मीद है. जगदीशन ने कहा कि ये मर्जर काफी फायदेमंद होगा क्योंकि होम लोन देश का सबसे खास वित्तीय प्रोडक्ट है और इससे बैंक को विस्तार में काफी फायदा मिलेगा. उनके मुताबिक आज घर खरीदने का माहौल बदल गया है. रेरा ने प्रक्रिया में अधिक पारदर्शिता सुनिश्चित की है. संपत्ति बाजार में कीमतों में सुधार के साथ इन्वेंट्री में कमी देखी है. साथ ही, बढ़ती आय का मतलब है कि होम लोन ईएमआई का बोझ अब कम हुआ है. इन सबसे संकेत है कि आने वाले समय में होम लोन सेग्मेंट काफी ग्रोथ का अनुमान है. और ये दशक में ग्रोथ का सबसे अहम हिस्सा होगा. इसी वजह से बैंक भी विस्तार योजना पर अमल कर रहा है.

यह भी पढ़ें :  Gold Price Today : सोने की कीमतों में आज फिर आई गिरावट, 5 दिन में 3500 रुपये हुआ सस्ता, चेक करें नए रेट्स.

पिछले वित्त वर्ष में बैंक ने खोली 734 ब्रांच

पिछले वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही में बैंक ने 563 शाखाएं खोलीं थीं और 7,167 कर्मचारियों को अपने साथ जोड़ा. अगर समूचे वित्त वर्ष की बात करें तो एचडीएफसी बैंक ने 734 शाखाएं खोलीं और 21,486 कर्मचारियों की भर्ती की थी , एचडीएफसी बैंक का मार्च 2022 के अंत में कुल जमा 16.8 फीसदी बढ़कर 1,559,217 करोड़ रुपये रहा. वहीं निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक का एकल आधार पर शुद्ध लाभ वित्त वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही में करीब 23 फीसदी उछलकर 10,055.20 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. विभिन्न क्षेत्रों में कर्ज की मांग बढ़ने और फंसे कर्जों के लिए वित्तीय प्रावधान की जरूरत कम पड़ने से बैंक के लाभ में यह बेहतरीन बढ़ोतरी दर्ज की गई है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page