Follow Us On Goggle News

Good News : सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी ! प्रमोशन नियमों में हुआ बड़ा बदलाव.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Good News for Government Employees : सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. यूपी सरकार ने ऐलान किया है कि अब कर्मचारियों को 10 साल के बजाय हर 5 साल की प्रविष्टियों पर प्रमोशन दिया जाएगा. राज्य सरकार ने कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए हेल्थ कार्ड भी इश्यू करने का ऐलान किया है.

Good News for Government Employees : सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है. अब सरकारी कर्मचारियों को आसानी से प्रमोशन मिलेगा. दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कर्मचारियों के हिते में बड़ा फैसला लेते हुए ये तय कर दिया है कि सरकारी विभागों में 5 साल पर प्रमोशन दिया जाएगा.

सरकार ने इसके लिए आदेश भी जारी कर दिया है. दरअसल, सरकारी सकर्मचारियों को प्रमोशन को लेकर अक्सर ही समस्याओं का सामना करना पड़ता है. ऐसे में, राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए कहा है कि अब 10 साल के बजाय हर 5 साल की प्रविष्टियों पर प्रमोशन दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें :  Petrol Diesel Price Today : फिर बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम, 15 रुपये तक महंगा होगा तेल, क्रूड ऑयल 13 साल के हाई पर.

सरकारी कर्मचारियों को मिलेंगे और फायदे :

इसके अलावा भी र सरकार ने कर्मचारियों के लिए बड़े ऐलान किए हैं. इसके तहत जिन राज्य कर्मचारियों पर कोई आरोप साबित हुआ है या जिन्हें किसी केस में सजा मिली है, उनके नियम भी बदल दिए गए हैं. इसके तहत अगर किसी पर बड़ा जुर्माना है तो उसे 3 साल जबकि अगर किसी पर कम का जुर्माना है तो उसे 1 साल का प्रमोशन नहीं दिया जाएगा. राज्य सरकार ने कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए हेल्थ कार्ड भी इश्यू करने का ऐलान किया है जिसके जरिए कर्मचारियों का इलाज निजी अस्पतालों में भी कराया जा सकेगा.

इंक्रीमेंट के भी बदले नियम :

सरकार ने इंक्रीमेंट के नियम में भी बदलाव किया है. सरकार ने कहा है कि अगर कोई कर्मचारी को सजा हुई है तो आदेश पारित होने के बाद वेतन बढ़ोतरी के लिए पहले तीन साल अलग रखा जाएगा. जब तक जुर्माने में उल्लिखित अवधि समाप्त नहीं हो जाती, तब तक कार्मिक को प्रमोट नहीं किया जाएगा. जब कर्मचारी की सजा की अवधि समाप्त हो जाएगी तब उसे प्रमोट कर दिया जाएगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page