Follow Us On Goggle News

Gold Loan: खराब सिबिल स्कोर रहने पर भी मिलेगा लोन, 25 लाख तक का आसानी से उठा सकते हैं लाभ

इस पोस्ट को शेयर करें :

Gold Loan: कई बैंक हैं जो ग्राहक को 25,000 रुपये से लेकर 25 लाख रुपये तक का गोल्ड लोन देते हैं. लोन चुकाने की अवधि 6 से 36 महीने की हो सकती है. गोल्ड लोन के लिए जिस दिन अप्लाई करें, उसी दिन खाते में पैसे आ जाते हैं.

 

Gold Loan: सिबिल स्कोर खराब हो तो लोन मिलना मुश्किल हो जाता है. कम सिबिल स्कोर (Cibil Score) हो तो लोन मिलेगा, लेकिन उसका ब्याज अधिक होगा. होम लोन लेना हो तो आपका सिबिल स्कोर 750 से अधिक होना चाहिए. लेकिन अगर किसी का सिबिल स्कोर अच्छा न हो या स्कोर खराब हो तो वह लोन कैसे ले सकता है. मामला तब और पेचीदा हो जाता है जब क्रेडिट कार्ड (Credit Card) भी न हो और लोन की तत्काल जरूरत पड़ जाए. ऐसे में सबसे अच्छा उपाय गोल्ड लोन (Gold Loan) का होता है. गोल्ड लोन लेने के लिए ग्राहक को अपना सोना गिरवी रखना होता है. इस तरीके से बैंक आसानी से लोन दे देते हैं क्योंकि उनके हाथ में लोन के खिलाफ बड़ी सिक्योरिटी होती है. इस तरीके से एक बार लोन मिल जाए तो आगे सिबिल स्कोर को सुधारना आसान है.

यह भी पढ़ें :  PNB ने ग्राहकों को दिया तोहफा, अब बिना कार्ड एटीएम से निकाल सकेंगे पैसे, शुरू की नई सुविधा.

 

गोल्ड लोन से कोई व्यक्ति आसानी से पैसे ले सकता है और इमरजेंसी में अपना बड़ा काम निकाल सकता है. चूंकि आपका सिबिल स्कोर खराब है या नहीं है, उसके बाद भी गोल्ड लोन ले रहे हैं तो आपके पास एक बड़ा मौका सिबिल स्कोर सुधारने का होता है. अगर समय पर लोन की किस्त चुकाते रहें और रेगुलर पेमेंट करते रहें तो आपकी क्रेडिट हिस्ट्री सुधरती है और उसी से सिबिल स्कोर भी सुधरता है. कई बैंक हैं जो ग्राहक को 25,000 रुपये से लेकर 25 लाख रुपये तक का गोल्ड लोन देते हैं. लोन चुकाने की अवधि 6 से 36 महीने की हो सकती है. गोल्ड लोन के लिए जिस दिन अप्लाई करें, उसी दिन खाते में पैसे आ जाते हैं.

कैसे सुधारें सिबिल स्कोर

सिबिल स्कोर सुधारने के लिए बैंक ने जो तारीख निर्धारित की है, उस तारीख तक लोन की किस्त चुका दें. किस्तों का रेगुलर पेमेंट करते रहें. इससे आपका सिबिल स्कोर तेजी से सुधरेगा. किसी कारणवश अगर एक दो ईएमआई नहीं चुका पाए तो कोशिश करें कि कर्ज का बोझ अधिक न हो. पैसे आते ही बाकी ईएमआई एक साथ भर दें. अगर आपका कर्ज अधिक हो जाएगा तो बैंक आपके सोने के बेच कर लोन का पैसा रिकवर कर सकता है

यह भी पढ़ें :  Free Business Ideas : नौकरी के साथ बिना किसी निवेश के शुरू करें यह बिजनेस, हर महीने होगी लाखों रुपये की कमाई.

आजकल आपको हर गली-चौराहे पर गोल्ड लोन देने वाले मिल जाएंगे. इसलिए आपको सही और गलत का चुनाव करना जरूरी है. कहां कम ब्याज पर लोन मिलेगा और कहां आपका सोना सुरक्षित रहेगा. जितने रुपये की जरूरत हो, उतने का ही गोल्ड लोन लें. जरूरत कम होगी तो लोन भी कम होगा और कर्ज को चुकाना आसान होगा. इससे आपका सिबिल स्कोर भी सुधरेगा. सिबिल स्कोर नही बिगड़े इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी समय पर लोन की ईएमआई चुकाना है. अगर कर्ज बढ़ जाएगा और बैंक सोने को लोन रिकवरी के लिए बेचता है, तो आपके सिबिल स्कोर का बेड़ागर्क हो जाएगा.

मान लें आपने 18 महीने की अवधि के लिए गोल्ड लोन लिया, लेकिन आपके पास कहीं से मोटी रकम आ गई. अगर आप 18 महीने के लोन को 14 महीने में ही रीपेमेंट कर चुका देते हैं तो सिबिल स्कोर अच्छा हो जाएगा. इससे आगे चलकर किसी भी प्रकार के लोन के लिए भटकना नहीं होगा और बैंक भी आपको प्राथमिकता देंगे.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page