Follow Us On Goggle News

Free Business Ideas : अपने गांव से शुरू करें ये उत्पादन, एक लाख की मदद देगी सरकार.

इस पोस्ट को शेयर करें :

राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) इस समय सामाजिक सुधार अभियान पर निकलें है। इस अभियान के तहत वो राज्य में शराबबंदी के कानून की खूबियों को लोगों को बता रहे हैं। इसके अलावा वो पुरुषों से शराब से दूर रहने का भी आग्रह कर रहे हैं। इसी कड़ी में वो समस्तीपुर में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। जहां उन्होंने नीरा (ताड़ का रस) के उत्पादन में लगे लोगों के लिए बड़ा ऐलान कर दिया है। Free Business IdeasFree Business Ideas

 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की है कि ताड़ी के बदले नीरा का उत्पादन करने वालों को राज्य सरकार मदद देगी। नीरा का व्यवसाय करने के लिए ऐसे लोगों को सतत जीविकोपार्जन योजना के तहत एक-एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। साथ ही सात महीने तक एक-एक हजार रुपये भी दिए जाएंगे। Free Business Ideas

यह भी पढ़ें :  Attention ! देश में तेजी से बढ़ रहा ऑनलाइन फ्रॉड, सिर्फ एक राज्य में हुई 51.33 करोड़ की धोखाधड़ी.

 

WhatsApp Image 2022 01 02 at 09.46.08 1 Free Business Ideas : अपने गांव से शुरू करें ये उत्पादन, एक लाख की मदद देगी सरकार.

नीतीश ने कहा कि ताड़ी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, जबकि नीरा स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। मुख्यमंत्री अपनी समाज सुधार यात्रा अभियान के पांचवें पड़ाव में गुरुवार को समस्तीपुर शहर के पटेल मैदान में जीविका दीदियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने मंच पर ही पदाधिकारियों को ताड़ी के बदले नीरा का उत्पादन करने वालों को मदद देने के लिए सभी आवश्यक कार्य करने का निर्देश दिया। Free Business Ideas

 

सीएम ने कहा कि ताड़ के पेड़ से सुबह होने से पहले नीरा निकलेगा। ताड़ के पेड़ से ताड़ी नहीं निकालें बल्कि नीरा का उत्पादन करें। कहा कि 1977 में मुख्यमंत्री बनने के बाद जननायक कर्पूरी ठाकुर ने पहली बार बिहार में शराबबंदी लागू की थी। लेकिन ढाई साल बाद उनके मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद उसे खत्म कर दिया गया। Free Business Ideas


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page