Follow Us On Goggle News

Edible Oil Price: आमलोगों के लिए राहत भरी खबर! और सस्ता हो सकता है खाने के तेल का दाम, कल होगा बैठक

इस पोस्ट को शेयर करें :

Edible Oil Price: आने वाले दिनों में खाने के तेल का भाव 10-15 फीसदी तक और घट सकता है. कल उत्पादकों और निर्यातकों के साथ सरकार की अहम बैठक होने वाली है. सरकार चाहती है कि कीमत में राहत का फायदा जनता तक पहुंचे और MRP जल्द घटाई जाए.

 

 

Edible Oil Price: जनता के लिए यह राहत की खबर है. आने वाले दिनों में खाने के तेल (Edible oil) के भाव में और गिरावट आ सकती है. एडिबल ऑयल के भाव में कमी लाने को लेकर बुधवार को सरकार की अहम बैठक संभव है. ईटी नाउ स्वदेश की रिपोर्ट के अनुसार, रिटेल मार्केट में खाने के तेल के भाव में कमी लाने के लिए इस बैठक का आयोजन किया जाएगा. इस बैठक में सभी तेल निर्यातकों और उत्पादकों को बुलाया जाएगा. बेचने वालों को MRP में बदलाव को लेकर निर्देश जारी किया जा सकता है. इंटरनेशनल मार्केट में खाने के तेल के भाव में कमी आई है. सरकार चाहती है कि इस कमी का पूरा-पूरा फायदा आम जनता को पहुंचे. इसीलिए इस बैठक का आयोजन किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें :  Good News : सरकारी कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले ! पीएफ खाते में आया इतना पैसा, फटाफट ऐसे चेक करें पैसे.

 

सरकार का मानना है कि खाने के तेल के भाव में अभी 10-15 फीसदी की और गिरावट संभव है. त्योहार का मौसम भी आने वाला है. महंगाई भी चरम पर है. ऐसे में अगर कीमत में 10-15 फीसदी तक की गिरावट आती है तो जनता के लिए बहुत राहत होगी. बता दें कि पिछले दिनों एडिबल ऑयल के भाव में बदलाव हुआ था और इसकी कीमत 10-15 रुपए प्रति लीटर तक कम हुई थी.

आने वाले दिनों में कीमत और घटने की उम्मीद

सरकार का कहना है कि कुछ देशों ने एडिबल ऑयल के निर्यात पर रोक लगाई थी जिसके कारण उनका स्टॉक बहुत ज्यादा हो गया. वह स्टॉक एकसाथ बाजार में आया है जिसके कारण कीमत में गिरावट देखने को मिल रही है. इसके अलावा डोमेस्टिक मार्केट में भी आवक नजदीक है. बाजार में बहुद जल्द सोयाबिन की ताजा फसल आएगी जिसके कारण सोयाबिन तेल की कीमत में कमी आएगी. ऐसे में आने वाले दिनों में कीमत में और गिरावट आएगी.

यह भी पढ़ें :  Petrol Diesel Price Today : देश के तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के लेटेस्ट रेट, देखें आपके शहर में आज क्या हैं पेट्रोल-डीजल के दाम.

15 रुपए प्रति लीटर तक पहले ही सस्ता हो चुका है रेट

जून के महीने में सरकार ने कमोडिटी पर लगने वाली इंपोर्ट ड्यूटी में कटौती की जिसके बाद खाने के तेल (Edible oil price) के भाव में गिरावट दर्ज की गई थी. एफएमसीजी कंपनी अडाणी विल्मर (Adani Wilmar) ने खाने के तेल के भाव में 10 रुपए प्रति लीटर की कटौती की थी. उससे पहले मदर डेयरी (Mother Dairy) ने अपने खाद्य तेल की कीमतों में 15 रुपए प्रति लीटर तक की कटौती की थी. मदर डेयरी अपने खाद्य तेलों को धारा (Dhara Edible Oils) ब्रांड के तहत बेचती है. मदर डेयरी ने एक लीटर वाले धारा सरसों तेल (पॉली पैक) की कीमत 208 रुपए से घटाकर 193 रुपए प्रति लीटर कर दी है.

हर साल 70 हजार करोड़ का आयात करता है भारत

भारत खाद्य तेलों के मामले में अभी आत्मनिर्भर नहीं हुआ है. हम हर साल करीब 70 हजार करोड़ रुपए का खाद्य तेल इंडोनेशिया (Indonesia), मलेशिया, रूस, यूक्रेन और अर्जेटीना आदि से मंगाते हैं. जिसमें सबसे ज्यादा हिस्सा पाम ऑयल का होता है. अपने यहां खाद्य तेलों की मांग और आपूर्ति में करीब 55 से 60 फीसदी का गैप है. भारत में खाद्य तेलों की मांग करीब 250 लाख टन है, जबकि उत्पादन केवल 110 से 112 लाख टन ही है. इसलिए अपने यहां खाने के तेल का दाम आयात से ज्यादा प्रभावित होता है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page