Follow Us On Goggle News

Cryptocurrency News : क्रिप्‍टो एक्‍सचेंज WazirX के खिलाफ ED का बड़ा एक्शन, 64 करोड़ रुपये की बैंक जमा पर लगाई रोक.

इस पोस्ट को शेयर करें :

ED Raids on Cryptocurrency Exchange WazirX Director : प्रवर्तन निदेशालय यानी ED ने लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज WazirX की पेरेंट कंपनी Zanmai लैब प्राइवेट लिमिटेड के एक डायरेक्टर के खिलाफ रेड की है. वित्तीय जांच करने वाली एजेंसी ने 64.47 करोड़ रुपये के उनके बैंक बैलेंस को फ्रीज करने का आदेश भी जारी किया है.

 

Cryptocurrency News : प्रवर्तन निदेशालय यानी ED ने लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज WazirX की पेरेंट कंपनी Zanmai लैब प्राइवेट लिमिटेड के एक डायरेक्टर के खिलाफ रेड की है. वित्तीय जांच करने वाली एजेंसी ने 64.47 करोड़ रुपये के उनके बैंक बैलेंस को फ्रीज करने का आदेश भी जारी किया है. ईडी कई भारतीय नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियों (NBFC) और उनके फिनटेक पार्टनर्स के खिलाफ आरबीआई के नियमों का उल्लंघन करने के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रहा है.

 

क्या है पूरा मामला?

इसके अलावा ईडी का आरोप है कि ये कंपनियां टेलीकॉलर्स का इस्तेमाल करती हैं, जो निजी डेटा का गलत इस्तेमाल करते हैं और लोन लेने वालों से ज्यादा ब्याज दर वसूल करने के लिए गलत भाषा का इस्तेमाल करते हैं. एजेंसी ने कहा कि चीनी फंड्स द्वारा समर्थित कई फिनटेक कंपनियों को आरबीआई से कर्ज देने का कारोबार करने के लिए NBFC लाइसेंस नहीं मिल सका था. इसलिए उन्होंने गलत रास्ता अपनाकर यह काम शुरू किया.

यह भी पढ़ें :  Business Ideas : सिर्फ 15 हजार रुपये में शुरू करें यह सुपरहिट बिजनेस! 3 महीने में ही कमा लेंगे 3 लाख, जानिए पूरा तरीका.

मामले को लेकर आपराधिक जांच शुरू होने के बाद, इनमें से बहुत से फिनटेक ऐप्स ने अपनी दुकान को बंद कर दिया और कमाए गए बड़े मुनाफे को डायवर्ट कर दिया. पड़ताल करते समय, ईडी को यह पता चला कि बड़ी राशि में फंड्स को फिनटेक कंपनियों ने क्रिप्टो एसेट खरीदने और उन्हें गैर-कानूनी-तरीके से विदेश में रखने के लिए डायवर्ट किया था. ईडी के मुताबिक, ये कंपनियां और वर्चुअल एसेट मौजूदा समय में पहुंच में नहीं हैं.

 

क्रिप्टो एक्सचेंज को भेजा गया समन :

वित्तीय जांच करने वाली एजेंसी ने क्रिप्टो एक्सचेंजेज को समन भी जारी किए हैं. ईडी ने कहा कि यह देखा गया है कि फंड्स की अधिकतम राशि को WazirX एक्सचेंज को डायवर्ट किया गया था और खरीदे गए क्रिप्टो एसेट्स को अज्ञात फॉरेन वॉलेट्स को डायवर्ट कर दिया गया है.

 

ईडी ने बताया कि WazirX क्रिप्टो एक्सचेंज की पेरेंट कंपनी Zanmai लैब्स प्राइवेट लिमिटेड ने Crowdfire इंक यूएसए, Binance (Cayman Islands), Zettai Pte Ltd सिंगापुर के साथ क्रिप्टो एक्सचेंज के स्वामित्व को हासिल करने के लिए कई समझौते किए हैं. इससे पहले उसके मैनेजिंग डायरेक्टर निशछल शेट्टी ने दावा किया था कि WazirX एक भारतीय एक्सचेंज है, जो सभी क्रिप्टो-क्रिप्टो और रुपये-क्रिप्टो ट्रांजैक्शन्स को नियंत्रित करता है. और उसका केवल एक आईपी और बाइनेंस के साथ प्रिफरेंशियल एग्रीमेंट है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page