Follow Us On Goggle News

ITR फाइलिंग की डेट बढ़ाने की मांग, Twitter पर ट्रेंड कर रहा ‘Extend Due Date Immediately’.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Extend Due Date Immediately : इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) भरने के लिए लास्ट डेट को आगे बढ़ाने की मांग उठने लगी है. ट्विटर (Twitter) पर इस समय ‘Extend Due Date Immediately’जमकर ट्रेंड कर रही है. हालांकि आयकर विभाग (Income Tax Department) पहले ही साफ कर चुका है कि इस बार आईटीआर दाखिल करने की लास्ट डेट नहीं बढ़ाई जाएगी.

 

ITR Filing Last Date : इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) भरने के लिए अब सिर्फ 6 दिनों का समय बचा है. इसके लिए सरकार ने 31 जुलाई 2022 की अंतिम तिथि तय की है. जैसे-जैसे लास्ट डेट (Last Date) करीब आ रही है, इसे आगे बढ़ाने की मांग भी उठने लगी है. ट्विटर (Twitter) पर इस समय ‘Extend Due Date Immediately’जमकर ट्रेंड कर रही है.

 

बीते साल भी चली थी मुहिम :

बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार आईटीआर भरने का लास्ट डेट (ITR Last Date) को आगे बढ़ाने (Extend) की मांग करते हुए करदाता ट्विटर पर अपनी परेशानियों को गिना रहे हैं. कोई इनकम टैक्स विभाग के पोर्टल में समस्या का हवाला दे रहा है, तो कोई अन्य कारणों से अंतिम तिथि को आगे बढ़ाने का आग्रह कर रहा है. बीते साल भी पोर्टल में तकनीकी खामियों को लेकर करदाताओं ने इसी तरह ट्विटर पर मुहिम चलाई थी.

यह भी पढ़ें :  Income Tax : ITR नहीं भरने पर लगेगा जुर्माना? अगर नहीं पता तो फटाफट जान लें ये नियम.

पोर्टल में समस्या आने की शिकायत :

बात करें फिलहाल, ट्विटर (Twitter) पर ट्रेंड कर रही इस मांग की. तो कुछ लोगों ने आईटीआर पोर्टल (ITR Portal) का स्क्रीनशॉट लेकर इसे शेयर किया है और लिखा है कि पोर्टल फिर डाउन हो गया. तो किसी ने लिखा कि समस्या विभाग को बताने पर कहा जा रहा है कि खुद आयकर अधिकारियों और कर्मचारियों को दिक्कत हो रही है. यही नहीं पिछले साल लास्ट डेट बढ़ाने का भी उदाहरण करदाता देते नजर आ रहे हैं.

 

 

31 जुलाई के बाद लगेगा जुर्माना :

आयकर विभाग लगातार करदाताओं से अपनी आईटीआर भरने की अपील कर रहा है. विभाग की ओर से कहा जा रहा है कि लास्ट डेट का इंतजार न करें और जल्द से जल्द इस काम को पूरा करें. दरअसल, अगर निर्धारित तिथि 31 जुलाई के बाद आईटीआर भरा जाता है तो करदाता तो जुर्माना (Fine) देना होगा. इसके तहत अगर आपकी इनकम पांच लाख रुपये से ज्यादा है, तो जुर्माने की राशि 5,000 रुपये होगी. जबकि पांच लाख रुपये से नीचे की सालाना आय वाले लोगों को 1,000 रुपये जुर्माना भरना होगा.

यह भी पढ़ें :  Farming Business : इन फसलों की खेती कर किसान होंगे मालामाल ! जानिए कौन सी है ये फसल और इनकी उन्नत किस्में, पढ़े पूरी जानकारी.

डेट बढ़ाने से विभाग का इनकार :

यहां बता दें कि आयकर विभाग (Income Tax Department) पहले ही साफ कर चुका है कि इस बार आईटीआर दाखिल करने की लास्ट डेट नहीं बढ़ाई जाएगी. अधिकारियों सोमवार को बिजनेस टुडे से बातचीत के दौरान कहा था कि रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सुचारू रखने में विभाग के आईटीआर पोर्टल (ITR Portal) पर गड़बड़ियों की जांच के लिए नियमित समीक्षा जारी है. उन्होंने कहा कि इस वर्ष आईटीआर दाखिल करने की समय सीमा आगे नहीं बढ़ाई जा सकती.

तीन करोड़ से ज्यादा रिर्टन दाखिल :

बिजनेस टुडे की रिपोर्ट में इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि जहां अब तक 3 करोड़ से ज्यादा करदाताओं (Taxpayers) ने आईटीआर (ITR) भर दिया है. वहीं इनमें 40 लाख आईटी रिटर्न सप्ताहांत में दाखिल किए गए. इस आंकड़े को देखकर कहा जा सकता है कि विभाग की अपील का करदाताओं पर असर हो रहा है. बता दें आयकर विभाग ने करदाताओं से कहा है कि रिटर्न दाखिल करने के लिए अंतिम तिथि (ITR Last Date) का इंतजार न करें और जल्द से जल्द इस काम को पूरा करें. 


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page