Follow Us On Goggle News

Consumer Appliances Hike : गर्मियों में महंगे हो जाएंगे एसी और फ्रिज जैसे सामान, महंगाई की आग से तपेगी आपकी जेब.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Consumer Appliances Hike : अब आप महंगे लार्ज कंज्यूमर एप्लायंसेज के लिए तैयार हो जाएं. इस वैश्विक संकट के आपके लिए और क्या मायने हैं. आइए जानते हैं…

Consumer Appliances Hike : रूस ने यूक्रेन (Russia-Ukraine) पर हमला कर पूरी दुनिया में महंगाई की आग को भड़का दिया है. इस युद्ध के असर को आप इस तरह समझिए, इस वैश्विक संकट से ना केवल कच्चे तेल की कीमत पर असर पड़ा है बल्कि मेटल और मिनरल्स की कीमतें भी आसमान छूने लगी हैं. इस वजह से व्‍हाइट गुड्स यानी घरों में इस्तेमाल किए जाने वाले फ्रिज (Fridge), वाशिंग मशीन (Washing Machine) और एसी (Air Conditioner) जैसे बड़े इलेक्ट्रिक एप्लायंसेज महंगे हो सकते हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि इन एप्लायंसेज को बनाने में एल्यूमिनियम और स्टील जैसे कई मेटल्स का इस्तेमाल प्रमुखता से होता है. लंदन मेटल एक्सचेंज पर एल्यूमिनियम की कीमत पहले ही रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई है. इससे पहले 2008 में यह मेटल सबसे महंगा हुआ था.

यह भी पढ़ें :  Before Buying a Plot in Delhi - NCR : अगर आप दिल्ली -एनसीआर में ज़मीन खरीदना चाहते हैं तो, जानिए इससे जुड़ी सभी काम की बातें.

एक्सपर्ट्स का कहना है कि  रूस-यूक्रेन युद्ध के तनाव और यूपी में चलते चुनाव के बीच आपके ऊपर महंगाई का हमला तेज हो रहा है. दावा है जीते कोई भी लेकिन आएगी महंगाई ही.

पेट्रोल, डीजल, बस कार में सफर, रसोई गैस, केरोसिन, साबुन, ब्यूटी प्रोडक्ट, पेंट्स, सिंथेटिक गारमेंट, स्कूटी, फ्रिज, एसी, वॉशिंग मशीन, टीवी, लैपटॉप, मोबाइल से लेकर घर बनाने तक सब महंगा हो सकते है.

आइए जानतें है पूरा मामला :

  1. अब जब इन एप्लायंसेज को बनाने की लागत बढ़ेगी तो स्वभाविक है कि उनकी कीमत पर भी इसका असर होगा. साथ ही ईंधन की बढ़ती कीमत महंगाई की आग में घी का काम करेगी. बढ़ती महंगाई के साथ व्‍हाइट गुड्स की कीमत पर भी अलग ही असर पड़ेगा.
  2. कंपनियों ने जनवरी में ओमिक्रोन के चलते अपना प्रोडक्शन धीमा कर दिया था और अब फरवरी से फुल स्केल प्रोडक्शन चालू किया है. लेकिन प्रोडक्शन के साथ इनपुट कॉस्ट बढ़ने से अब कंपनियों के पास कीमतें बढ़ाने के अलावा कोई चारा नहीं बचा है.
  3. रिकॉर्ड महंगाई की वजह से पहले ही कंपनियां 2020 के बाद से कंपनियां तीन बार कीमतें बढ़ा चुकी हैं. फ्रिज, एसी और वाशिंग मशीन की कीमतें औसत रूप से 15 से 35 प्रतिशत बढ़ी हैं.
  4. 2019 में भारत में एप्लायंस और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स यानी ACE का बाजार 76 हजार 400 करोड़ रुपए का था, जिसके 2025 तक दोगुना होकर 1 लाख 48 हजार करोड़ रुपए होने की उम्मीद है. लेकिन बढ़ती महंगाई से हो सकता है कि यह रफ्तार थोड़ी धीमी पड़ जाए.
यह भी पढ़ें :  Gold Price Today : फिर सस्ता हो गया है सोना, जानिए आज क्या 10 ग्राम सोने का ताजा भाव.

 


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page