Follow Us On Goggle News

Business Ideas : घर से शुरू करें जबरदस्त डिमांड वाला यह बिजनेस ! कम लागत में हर महीने करें लाखों की कमाई.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Business Ideas in Hindi : अगर आप घर बैठे बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आज हम आपको एक यूनिक बिजनेस आडिया दे रहे हैं. यह एक ऐसा बिजनेस है जिसकी दिनों दिन डिमांड बढ़ती जा रही है.

 

Business Ideas : अगर आप घर बैठे बिजनेस करने की तलाश में हैं तो आज हम आपको यूनिक बिजनेस आडिया दे रहे हैं। यह एक ऐसा बिजनेस है जिसकी दिनों दिन डिमांड बढ़ती जा रही है। किसानों के लिए इस प्रोडक्ट की मांग सबसे अधिक है। आज हम आपको बता रहे हैं वर्मी कम्पोस्ट यानी केचुआ खाद के बारे में। गोबर को वर्मी कम्पोस्ट में बदलकर आप आपनी आमदनी बढ़ा सकते हैं और घर बैठे आराम से लाखों रुपये महीना कमा सकते हैं।

 

जानिए क्या है वर्मी कम्पोस्ट :

केचुए को अगर गोबर के रूप में भोजन दिया जाए इसे खाने के बाद विघटित होकर बने नए उत्पाद को केचुआ खाद यानी वर्मी कम्पोस्ट कहते हैं। गोबर के वर्मी कम्पोस्ट में बदल जाने के बाद इसमें बदबू नहीं आती है। इसमें मक्खियां और मच्छर भी नहीं पनपते हैं। इससे पर्यावरण में भी शुद्धि रहती है। इसमें 2-3 फीसदी नाइट्रोजन, 1.5 से 2 फीसदी सल्फर, और 1.5 से 2 फीसदी पोटाश पाया जाता है। इसीलिए केचुआ को किसानों का मित्र कहा जाता है।

यह भी पढ़ें :  7th Pay Commission : नए फॉर्मूले से जुलाई में होगा DA का ऐलान ! बदल गया कैलकुलेशन, ऐसे तय होगी सैलरी.

 

कैसे करें शुरू :

केंचुआ खाद का बिजनेस की शुरुआत अपने घर के खेत में खाली पड़े हिस्सों पर आसानी से किया जा सकता है। ना ही किसी प्रकार के शेड आदि निर्माण करने की जरूरत है आप खेत के चारों तरफ जालीदार घेरे बनाकर इसकी जानवरों से सुरक्षा कर सकते हैं । किसी खास सुरक्षा की जरूरत नहीं है। लंबे और टिकाऊ Polyethene की Tripoline बाजार से खरीद लें फिर उसे 1.5 से 2 मीटर चौड़ाई और आपके जगह के हिसाब लंबाई मेन काट लें। अपने जमीन को समतल कर लें उसके बाद Tripoline बिछाकर उसके ऊपर गोबर फैला दें। गोबर की ऊंचाई 1 से 1.5 फीट के बीच रखें। अब केंचुए उस गोबर के अंदर डाल दें। 20 बेड के लिए करीब 100 किलो केंचुओं की जरूरत होगी। करीब एक महीने में खाद बनकर तैयार हो जाएगी।

 

कैसे बनाए वर्मीकम्पोस्ट (Vermicompost) :

प्लास्टिक के ऊपर केले के तने के छोटे-छोटे टुकड़े कर दो से ढाई इंच की परत बना देते हैं. इसके बाद 15 से 20 दिन पुराना गोबर कचरे को 60 अनुपात 40 में मिलाया जाता है. फसल के रूप में फसल अवशेष, घरेलु कचरे डाल सकते हैं. फिर गोबर और कचरे को मिला देते हैं इसके साथ ही जरूरत के हिसाब से पानी मिला देते हैं. अब इस मिश्रण को केले के टुकड़े के ऊपर ऐसे डालते हैं कि ऊपर से ऊंचा और चारों तरफ ढलान हो. फिर इस ढेर के ऊपर 15 सौ से 1800 केंचुओं को प्रति घन मीटर के हिसाब से डाला जाता है. इसके बाद जूट को बोरी को अच्छे से भिगोकर ढंक दिया जाता है. फिर समय-समय पर इसे उलटते पलटते रहे. ताकि नीचे की परत ऊपर और ऊपर की परत नीचे आ जाए. 45 से 60 दिनों के बाद वर्मीकम्पोस्ट तैयार हो जाता है.

यह भी पढ़ें :  RBI Repo Rate Hike : RBI के इस कदम से बढ़ सकती है होम लोन की EMI, जान‍िए क्‍यों होगा ऐसा.

 

जमीन का चुनाव :

इसके निर्माण के लिए ऐसी जमीन का चुनाव करना उचित रहता जो ऊंची हो ताकि पानी का जमाव नहीं हो. इसके बाद तीन फ़ीट चौड़ाई और लम्बाई  (जमीं की उपलब्धता के अनुसार) रखी जाती है. अब दो-दो ईंट से घेरे बनाए जाते हैं, फिर इस घेरे में मोटी पॉलीथिन बिछा दी जाती है. इसे धूप और पानी से बचाने के लिए  छत की व्यवस्था करना जरूरी है.

 

खाद की कैसे करें बिक्री :

खाद की बिक्री के लिए आप ऑनलाइन सहारा ले सकते हैं। Amazon, Flipkart जैसे ई-कॉमर्स साइट के जरिए अपनी बिक्री बढ़ा सकते हैं। किसानों से संपर्क करके भी आप अपनी बिक्री बढ़ा सकते हैं। अगर आप 20 बेड से अपने केंचुआ खाद का बिजनेस शुरू करते हैं तो आपको 2 साल के भीतर 8 लाख से 10 लाख टर्नओवर वाला बिजनेस बन जाएगा।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page