Follow Us On Goggle News

Business Ideas : आज ही शुरू करें यह ब‍िजनेस ! होगी अंधाधुंध कमाई, 50 हजार निवेश कर लगाएं प्‍लांट.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Business Ideas : आज के समय हर कोई अपना ब‍िजनेस करना चाहता है, लेक‍िन उसके ल‍िए जरूरत होती है आपका माइंडली प्रीपेयर होना. कुछ लोग तो नौकरी करने के साथ भी ब‍िजनेस प्‍लान करते रहते हैं. कई को इसमें सफलता म‍िल जाती है लेक‍िन कई लोग कुछ खास नहीं कर पाते.

 

Business Ideas : आज के समय में हर कोई अपना ब‍िजनेस करना चाहता है, लेक‍िन उसके ल‍िए जरूरत होती है आपका माइंडली प्रीपेयर होना. कुछ लोग तो नौकरी करने के साथ भी ब‍िजनेस प्‍लान करते रहते हैं. कई को इसमें सफलता म‍िल जाती है लेक‍िन कई लोग कुछ खास नहीं कर पाते. अगर आप भी ब‍िजनेस शुरू करना चाहते हैं तो यहां हम बात करेंगे बेहद कम लागत में शुरू होने वाले ब‍िजनेस के बारे में.

 

घर से ही शुरू कर सकते हैं ये ब‍िजनेस :

इस ब‍िजनेस से होने वाली कमाई के बारे में आप पूछेंगे तो हमारा जवाब होगा अंधाधुंध. जी हां, कम लागत में शुरू होने वाला यह ब‍िजनेस आजकल ड‍िमांड में है और कमाई भी अच्‍छी कराता है. हम ज‍िस ब‍िजनेस की बात कर रहे हैं वो LED बल्‍व ( LED Blub Making Business ) बनाने का बिजनेस है. जगह कम होने पर आप घर से भी इसकी शुरुआत कर सकते हैं. इसमें महज 50 हजार रुपये की लागत आती है.

यह भी पढ़ें :  Home Loan : होम लोन लेने से पहले बैंक और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों के चेक करें लेटेस्ट रेट, जानें कहां कितना लग रहा ब्याज.

 

सरकार से म‍िलेगी प्रोत्‍साहन राश‍ि :

सरकार की तरफ से कई ब‍िजनेस शुरू करने पर सब्सिडी दी जा रही है. यह ब‍िजनेस भी कुछ ऐसा ही है, ज‍िसमें आपको सरकार की तरफ से ब‍िजनेस के ल‍िए प्रोत्साहित क‍िया जाता है. इस बिजनेस के ल‍िए सरकार से सब्सिडी मिलने के बाद आपको शुरुआत में 50 हजार रुपये ही इनवेस्‍ट करने की जरूरत है.

 

100 प्रत‍िशत की बचत

एक एलईडी बल्‍व ( LED Blub Making Business ) को तैयार करने में 40 से 50 रुपये की लागत आती है. बाजार में यह बल्‍व 80 से 100 रुपये में आसानी से ब‍िक जाता है. आपने काम छोटे लेवल पर शुरू क‍िया है. ऐसे में मान लीज‍िए आप प्रत‍िद‍िन 100 बल्‍व बेच लेते हैं तो आपको 4 से 5 हजार की इनकम हो जाएगी.

 

शहर और गांव में बढ़ रही ड‍िमांड

एलईडी बल्‍व ( LED Blub Making Business ) का कैसे बनाया जाए, इसके ल‍िए सरकार से मान्यता प्राप्त कई संस्थान ट्रेनिंग देते हैं. एलईडी बल्व बनाने वाली कंपनियां भी ट्रेनिंग देती हैं. इसकी ट्रेन‍िंग में प्रेक्‍ट‍िकल और थ्‍योरी दोनों की जानकारी दी जाती है. एलईडी बल्व की ड‍िमांड शहर और गांव में द‍िन पर द‍िन बढ़ रही है. इसकी रोशनी अच्‍छी रहती है और ब‍िजली की खपत भी कम होती है. प्लास्टिक से तैयार होने के कारण यह बल्‍व कांच के मुकाबले ट‍िकाऊ रहता है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page