Follow Us On Goggle News

Business Ideas : नौकरी छोड़ शुरू करें ये बिजनेस ! हर साल होगी 15 लाख से ज्यादा का होगा मुनाफा, जानिए कैसे करें स्टार्ट?

इस पोस्ट को शेयर करें :

Business Ideas  : अगर आप कम जगह में कोई ऐसी फसल उगाना चाहते हैं, जिससे तगड़ा मुनाफा हो तो आज हम आपके लिए एक ऐसा आइडिया लेकर आए हैं जिससे आप अच्छी कमाई कर सकते हैं.

 

Business Ideas : ये बात तो सभी जानते हैं कि नौकरी से ज्यादा मुनाफा बिजनेस में होता है. ऐसे में कई ऐसे पढ़े लिखे नौजवान हैं जो कमाई के लिए खेती की तरफ मुड़ गए हैं. साथ ही बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार भी आपकी मदद कर रही है. अगर आप भी फार्मिंग (Farming) में अपना हाथ आजमाना चाहते हैं तो ऐसा ही एक बिजनेस आइडिया (Business Ideas) आज हम आपके लिए लाएं है. जिससे आप अच्छी कमाई कर सकते हैं.

 

अगर आप कम जगह में कोई ऐसी फसल उगाना चाहते हैं, जिससे तगड़ा मुनाफा हो तो आप सरकार की मदद से अदरक की खेती भी कर सकते हैं. अदरक का इस्तेमाल हर घर में होता है.चाय से लेकर सब्जियां या फिर कोई दूसरी डिश बनाने तक में अदरक का इस्तेमाल होता है। ठंड में अदरक का खूब इस्तेमाल होता है. तो चलिए जानते आप कैसे शुरू करें अदरक की खेती.

 

कैसे करें अदरक की खेती ( Ginger farming ) :

सभी जानते है कि अदरक की खेती कैसे की जाती है. सर्दियां आ गई है ऐसे में यह एक ऐसी फसल है जिसका प्रयोग हम घर में होता है. इस फसल को भी हम वैज्ञानिक तरीके से आसानी से कर सकते है. अब यदि किसी किसान को अदरक की खेती करनी है तो वह उसे जमीन पर भी कर सकते है, लेकिन आजकल उचित जल निकास वाली दोमट भूमि में अदरक की खेती को सर्वोत्तम माना जाता है. मृदा निर्माण से पहले खेत की अच्छी तरह से जुताई करके मिट्टी को भुरभुरा बना लेना चाहिए. इसके साथ ही अदरक की खेती को खरपतवार रहित रखने के लिए मिट्टी को नरम बनाए रखने की आवश्यकता हेतु लगातार जुताई करते रहना चाहिए.

यह भी पढ़ें :  Petrol Diesel Price Today : आज नहीं बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम, जानें आपके शहर में क्या है कीमत.

 

Ginger Farming Business Ideas : नौकरी छोड़ शुरू करें ये बिजनेस ! हर साल होगी 15 लाख से ज्यादा का होगा मुनाफा, जानिए कैसे करें स्टार्ट?

अदरक की खेती जलवायु :

यदि हम अदरक की खेती के लिए जलवायु की बात करें तो अदरक की खेती ऐसी जगह पर करनी चाहिए जहां का वातावरण पूरी तरह से नर्म हो. इसके अलावा फसल के विकास के समय 50 से 60 सेंटीमीटर वार्षिक वर्षा हो साथ ही भूमि भी इस तरह की ही होनी चाहिए जहां पर पानी ज्यादा देर तक ना ठहर सकें और पर्याप्त छाया भी बनी रहे.

 

बीज की बुवाई :

अदरक की फसल के लिए बीज कंदों को बोने से पहले 0.25 प्रतिशत इथेन, 45 प्रतिशत एम और 0.1 प्रतिशत बाविस्टोन के मिश्रण के घोल में लगभग एक घंटे तक डुबों कर रखे रहना चाहिए. फिर इसे दो से तीन तीन तक इसे छाया में ही सूखने देना चाहिए. जब ये बीज अच्छे तरह से सूख जाए तो उसे करीब ल4 सेंटीमीटर गहरे गड्डे को खोद कर उसी में बो देना चाहिए. बीज को बोते समय कतार की दूरी कम से कम 25 से 30 सेंटीमीटर और पौधे से पौधे की दूरी लगभग 15 से 20 सेंटीमीटर होनी चाहिए. इसकी बीज के बुवाई के तुंरत बाद ही उसके ऊपर से घास फूस पत्तियों और गोबर की खाद को डालकर पूरी तरह से अच्छे से ढंक लेना चाहिए. इससे मिट्टी के अंदर नमी बनाए रखना काफी ज्यादा आसान होता है. साथ ही अदरक के अंकुरन तेज धूप से बच सकते है.

यह भी पढ़ें :  Petrol Diesel Price Today : दिल्ली में नोएडा से सस्ता बिक रहा पेट्रोल-डीजल, जानिए आपके शहर में आज क्या है पेट्रोल - डीजल की लेटेस्ट रेट.

 

सिंचाई व जल प्रबंधन :

अदरक की खेती में बराबर नमी का बना रहना काफी ज्यादा जरूरी है. इसीलिए इसकी खेती में पहली सिंचाई को बुआई के तुंरत बाद कर लेना चाहिए. अदरक की खेती के लिए सिंचाई की बेहतर तकनीकों में टपक पद्धति या ड्रिप एरिगेशन का प्रयोग किया जाए तो इसके काफी अच्छे परिणाम सामने आ सकते है.

 

खाद प्रबंधन :

अदरक की खेती जब भी जाती है तो इसकी जांच करने के बाद ही पता लगता है कि कब, कितनी खाद का प्रयोग करना चाहिए. अगर मिट्टी की जांच ना भी की जाए तो भी गोबर की खाद या फिर कम्पोस्ट से 20 से 25 टन, नाइट्रोजन 100 किलोग्राम, 75 किलोग्राम फास्फेरस साथ ही 100 ग्राम प्रतिहेक्टेयर की दर से पोटाश को खेत में डालना चाहिए.

इस खाद को देने के लिए आप चाहें तो गोबर या कंपोस्ट को भूमि की तैयारी से थोड़ा पहले खेत में सामान्य रूप से डालकर खेत में अच्छे से जुताई करनी चाहिए. इसके साथ नाइट्रोजन, फास्फेरस, पोटाश की आधी मात्रा को बीज की बुआई के समय दिया जाना चाहिए. इसके बाद आधी को बुआई के कम से कम 50 से 60 दिनों के बाद खेत में डाल कर चढ़ा लेना चाहिए.

यह भी पढ़ें :  Electric charging Station : आप भी खोल सकते हैं इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन और कर सकते हैं बंपर कमाई, जानिए क्या है खर्च और तरीका

 

 

 

 

इतना आएगा खर्च :

अदरक की फसल लगभग 8 से 9 महीने में तैयार हो जाती है. अदरक की फसल औसतन 150 से 200 क्विंटल प्रति हेक्टेयर होती है. 1 एकड़ में 120 क्विंटल अदरक हो जाता है. एक हेक्टेयर में अदरक की खेती में करीब 7 – 8 लाख रुपये का खर्च भी आ जाता है.

 

कितना होगा मुनाफा :

अगर बात मुनाफे की करें तो एक हेक्टेयर में अदरक की खेती से करीब 150 से 200 क्विंटल निकलता है. बाजार में अदरक की कीमत 80 रुपये किलो तक होती है, लेकिन अगर हम 50 से 60 रुपये का औसत भी मान लें तो एक हेक्टेयर से आपको 25 लाख रुपये की कमाई होगी। सारा खर्चा हटाने के बाद भी आपको 15 लाख रुपये का मुनाफा होगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page