Airtel Prepaid : एयरटेल यूजर्स को तगड़ा झटका ! हर महीने कम से कम इतने से करना होगा रीचार्ज, वरना नहीं मिलेंगी सेवाएं.

Airtel Prepaid Recharge भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनियों में शामिल Bharti Airtel की ओर से इसका सबसे सस्ता मंथली प्लान महंगा कर दिया गया है. अब यूजर्स को 99 रुपये के बजाय कम से कम 155 रुपये से रीचार्ज करना पड़ेगा.

 

Airtel Prepaid Service : भारती एयरटेल सब्सक्राइबर्स के लिए बड़ी खबर है और कंपनी ने सबसे सस्ता मंथली प्लान बंद कर दिया है। यानी कि यूजर्स के लिए सबसे सस्ता प्लान अब पहले के मुकाबले महंगा हो गया है। अगर एयरटेल की सेवाएं लेना चाहते हैं तो हर महीने कम से कम 155 रुपये से रीचार्ज करवाना ही होगा।

टेलिकॉम कंपनी ने पिछले साल नवंबर में दो सर्कल्स- हरियाणा और उड़ीसा के लिए मिनिमम मंथली रीचार्ज बढ़ाकर 155 रुपये का कर दिया था और 99 रुपये का प्लान खत्म कर दिया था। अब 7 अन्य सर्कल्स में भी 99 रुपये का सबसे सस्ता मंथली प्लान बंद कर दिया गया है और इसे 155 रुपये वाले प्लान से रिप्लेस किया गया है।

ये फायदे देता है 155 रुपये वाला प्लान :

एयरटेल के 155 रुपये कीमत वाले प्रीपेड प्लान की वैलिडिटी 28 दिन की है। इस प्लान में अनलिमिटेड वॉइस कॉलिंग के साथ 1GB मोबाइल डाटा का फायदा मिलता है। इस प्लान में वैलिडिटी पीरियड के दौरान कुल 300SMS के फायदे भी मिल जाते हैं।  कंपनी ने मिनिमम मंथली प्लान महंगा करने की घोषणा बेहतर यूजर्स एक्सपीरियंस के वादे के साथ की है।

 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए 

यहाँ क्लिक करें.

यह बदलाव क्यों कर रही है एयरटेल? 

भारत की दो सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनियों में शामिल भारती एयरटेल की कोशिश अपना एवरेज रेवन्यू प्रति यूजर (ARPU) लगातार बढ़ाने की है। कंपनी के प्लान इसके सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी रिलायंस जियो के मुकाबले महंगे होने की वजह भी यही है। साथ ही संकेत मिले हैं कि जल्द भारतीय टेलिकॉम कंपनियां अपने प्रीपेड प्लान्स महंगे कर सकती हैं।

यह भी पढ़े :  Adani Group में चल रहे घमासान पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने तोड़ी चुप्पी, कह दी ये बड़ी बात!

 

तेजी से एयरटेल का 5G रोलआउट :

एक के बाद एक नए शहरों और सर्कल्स में एयरटेल की ओर से 5G रोलआउट किया जा रहा है। हाल ही में कंपनी ने तमिलनाडु के 5 शहरों में 5G इंटरनेट स्पीड का फायदा अपने यूजर्स को देना शुरू किया है। इन शहरों की लिस्ट में कोयंबटूर, मदुरै, होसूर और त्रिची शामिल हैं। कंपनी की कोशिश इस साल के आखिर तक देश के सभी बड़े शहरों में 5G सेवाएं देने की है।