Follow Us On Goggle News

8th Pay Commission : 8वां वेतन आयोग मोदी सरकार ने संसद में दी बड़ी जानकारी, जानिए कब होगा लागू?

इस पोस्ट को शेयर करें :

8th Pay Commission latest Update : 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के बावजूद कम सैलरी मिलने की शिकायत कर रहे केंद्रीय कर्मचारियों को आठवें वेतन आयोग का इंतजार है. अब सरकार ने इस पर अपना बयां जारी कर दिया है. आइये जानते हैं लेटेस्ट अपडेट.

8th Pay Commission : केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर है. कर्मचारियों को काफी समय से 8वें वेतन आयोग (8th Pay Commission) का इंतजार है. दरअसल, 7वां आयोग वेतन आने के बाद भी सरकारी कर्मचारियों को कम सैलरी की शिकायत रहती है. ऐसे में इन्हें 8वें वेतन आयोग का बेसब्री से इंतजार है. लेकिन अब मोदी सरकार (Modi Government) की पर बड़ा अपडेट दिया है. सरकार 8वें वेतन आयोग लाने से साफ मना कर दिया है. 

संसद में सरकार ने दिया जवाब :

केंद्र सरकार (Union Government) ने इस पर अब आपका पक्ष साफ करते हुए इस दावे को निराधार बताया गया है. यानी केंद्रीय कर्मचारियों (Central Govt Employees) और पेंशनभोगियों (Pensioners) के वेतन, भत्ते और पेंशन में रिवीजन के लिए 8वां केंद्रीय वेतन आयोग लाने पर सरकार अभी कोई विचार नहीं कर रही है. केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने संसद में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि सरकार के पास ऐसा कोई भी प्रस्ताव विचाराधीन नहीं है.

यह भी पढ़ें :  Stock Market : आधे दाम पर मिल रहे हैं ये 5 शेयर, जानिए क्या इन्हे खरीदना रहेगा फायदेमंद?

नहीं हो रही कोई चर्चा :

दरअसल, सदन में वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी से सवाल किया गया था कि क्या यह सच है कि सरकार केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के वेतन, भत्ते और पेंशन को रिवाइज करने के लिए 8वां वेतन आयोग (8th Pay Commission) लागू करने पर विचार कर रही है? इस पर सरकार की ओर से यह जवाब दिया है कि फिलहार सर्कार ऐसी कोई चर्चा नहीं कर रही है.

बदलेंगे ये नियम!

दूसरी तरफ केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने कर्मचारियों के सैलरी और प्रमोशन को लेकर कहा कि यह सुझाव जरूर दिया गया है कि पे-मेट्रिक्स (Pay-Matrics) में समय-समय पर बदलाव हों और इसके लिए अगले वेतन आयोग की जरूरत न पड़े. ऐसे में इसकी समीक्षा और संशोधन एक्रोयड फॉर्मूले के आधार पर किया जा सकता है, जो कर्मचारियों की जरूरत के हिसाब से तय की जाए.यानी सरकार प्रमोशन के नियमों में बदलाव कर सकती है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page