Follow Us On Goggle News

Wine Smuggling : बिहार के उपमुख्यमंत्री के गृह जिले कटिहार में शराब तस्करी का वीडियो वायरल, राजद ने कसा तंज.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Wine Smuggling in Bihar  : उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद के गृह जिले कटिहार में शराब तस्करी का वीडियो वायरल हुआ है. बता दें कि कटिहार बंगाल और बिहार की सीमा पर है. यहां से बंगाल की दूरी महज 15 किलोमीटर है और इसी का फायदा शराब तस्कर उठा रहे हैं.

 

Wine Smuggling : बिहार सरकार शराबबंदी कानून को कड़ाई से पालन करने के लिए भले ही हरसंभव प्रयास कर रही है, लेकिन शराब तस्कर भी तू डाल-डाल, तो मैं पात-पात कहावत को चरितार्थ करते हुए तस्करी के नए तरीके भी ईजाद कर ले रहे हैं. तस्कर अब शराब तस्करी के लिए स्कूली बच्चों का सहारा ले रहे हैं. इस क्रम में कटिहार तथा आसपास के क्षेत्रों में एक वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें बच्चों के स्कूली बैग में शराब की बोतलें दिखाई जा रही हैं. हालांकि हम इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करते हैं.

यह भी पढ़ें :  Holi Milan Samaroh : फगुवा के बहाने BJP विधायक का CM पर तंज, कहा- 'नीतीश जी के राज में सब विधायक @#$&* हो गए'.

 

शराबबंदी को लेकर बिहार सरकार लाख दावे कर ले,  लेकिन कटिहार जिले से जो एक तस्वीर सामने आ रही है वह प्रशासन की पोल खोलने के लिए काफी है. अब यह वीडियो राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने भी अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से पोस्ट किया है. सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि कटिहार डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद का गृह जिला भी है.

 

राजद ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से वायरल वीडियों को ट्वीट करते हुए भाजपा और मुख्यमकंत्री नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए लिखा है, भाजपा और नीतीश कुमार ये शराब तस्करी वाले 19 लाख रोजगार दे सकते हैं बस.

 

 

 

वीडियो में कटिहार रेलवे स्टेशन के पास के ही एक स्टेशन (हाल्ट) को दिखाया गया है, जहां बताया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल से आने वाली ट्रेनों से हर दिन शराब की बड़ी खेप लाई जाती है. वीडियो देखने से साफ पता चलता है कि शराब तस्कर कूरियर (जिन बच्चे या अन्य लोगों से शराब आपूर्ति करवाई जा रही है) धीमी गति से चलती ट्रेन या चेन खींचकर शराब की खेप उतारते हैं और उसे गंतव्य तक पहुंचा रहे हैं.

यह भी पढ़ें :  Bihar News : लालू यादव आज RJD कार्यालय में 11 फीट ऊंची और 6.5 टन भारी लालटेन का करेंगे अनावरण.

 

ट्रेन रोककर शराब की जमकर तस्करी :

कटिहार जंक्शन से मनिया हॉल्ट महज कुछ ही किलोमीटर पर है। यहां रोज बंगाल से आने वाली ट्रेनों से शराब की बड़ी खेप लाई जाती है. धीमी गति से चलती ट्रेन या चेन पुलिंग कर शराब की खेप को उतार लिया जाता है. कभी-कभी बीच रास्ते में भी ट्रेनों को रोक दिया जाता है. इसके बाद तस्कर अपने कैरियर के जरिए शराब को ट्रेन से उतरवाते हैं.

वायरल वीडियो में एक बच्चे के स्कूली बैग में भी शराब की बोतलें दिखाई जा रही है जबकि अन्य कई लोगों के थैलों में भी शराब बताई जा रही है. उल्लेखनीय है कि जनवरी महीने में दो स्कूली छात्रों के स्कूली बैग से शराब बरामद की गई थी, जिसके बाद स्कूली छात्रों को गिरफ्तार कर लिया गया था.

 

इधर, राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी भी कहते हैं कि कटिहार का तो वीडियो सामने आ गया, लेकिन राज्य में कई सीमावर्ती ऐसे जिले हैं जहां शराब की तस्करी के लिए बच्चों का इस्तेमाल हो रहा है। उन्होंने कहा कि बच्चे कम पैसे के लालच में इस धंधे में लगाए हुए हैं। बच्चों पर पुलिस का शक भी कम होता है। उन्होंने कहा कि राज्य में शराबबंदी पूरी तरह फेल है.

यह भी पढ़ें :  Breaking News : मोतिहारी में बड़ा हादसा, तालाब में डूबने से 5 बच्चियों की मौत, एक-दूसरे को बचाने में गई जान.

उल्लेखनीय है कि राज्य के विभिन्न जिलों में पिछले दिनों जहरीली शराब पीने से कई लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई लोगों के आखों की रोशनी चली गई है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page