Follow Us On Goggle News

Bihar Unlick -5 : बिहार में 16 अगस्त से खुल रहे 1 से 8वीं तक के स्कूल, तैयारी पूरी.

इस पोस्ट को शेयर करें :

अनलॉक-5 के तहत 16 अगस्त के प्रदेश के स्कूलों में कक्षा एक से आठवीं तक के क्लासेज खुल रहे हैं. ऐसे में सरकार (Government) ने शिक्षा (Education) के साथ-साथ बच्चों की सुरक्षा (Child Safety) को देखते हुए स्कूलों को खोलने (Open School) के लिए जरूरी गाइडलाइन भी जारी किए हैं.

अनलॉक-5 (Unlock-5) के तहत 16 अगस्त के प्रदेश के स्कूलों School In Bihar) में कक्षा एक से आठवीं तक के क्लासेज खुल रहे हैं. सरकार ने शिक्षा के साथ-साथ बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए स्कूलों को खोलने के लिए जरूरी गाइडलाइन (Guideline) भी जारी किए हैं. इसके तहत सभी स्कूलों को गेट पर ही सैनीटाइजर (Sanitizer) और थर्मल स्क्रीनिंग (Thermal Screening) की व्यवस्था करानी होगी.

बिना मास्क के बच्चों को स्कूल परिसर के अंदर प्रवेश नहीं दिया जाएगा और 1 दिन में एक क्लास के 50 प्रतिशत बच्चों को ही क्लासेज के लिए बुलाया जाएगा. इसके अलावा स्कूल बस में भी सभी को मास्क पहनना अनिवार्य है. स्कूल बस की खिड़की खुली रहनी चाहिए.

यह भी पढ़ें :  Bihar Politics : नीति साफ... रणनीति में बदलाव, अचानक आक्रामक क्यों हो गए नीतीश?

सरकार की गाइडलाइन के अनुरूप पटना के लगभग सभी प्राइवेट स्कूलों ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली है. इंडिपेंडेंट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ सीबी सिंह ने बताया कि 16 अगस्त से स्कूल कक्षा 1 से 8 तक के लिए खुल रहे हैं. बच्चों को स्कूल जाने के लिए बाध्य नहीं किया जा रहा है.

‘स्कूल गेट पर सैनिटाइजर के साथ-साथ मास्क की भी व्यवस्था की जा रही है. बच्चे का मास्क गंदा हो गया या फिर गिर गया तो उसे दूसरा मास्क दिया जाएगा. सभी बच्चों को अपने साथ एक छोटा सैनिटाइजर का बोतल और अपना वाटर बोतल लेकर आना अनिवार्य किया गया है. स्कूल में लंच शेयरिंग और वाटर बोतल शेयरिंग पर पूरी तरह रोक रहेगी और इसको लेकर शिक्षक भी लगातार निगरानी करेंगे.’ : डॉ सीबी सिंह, अध्यक्ष, इंडिपेंडेंट स्कूल एसोसिएशन

‘जो बच्चे स्कूल नहीं आ पाएंगे उनके लिए क्लास रूम की पढ़ाई की स्कूल के ऐप के माध्यम से लाइव व्यवस्था रहेगी. बच्चे घर बैठे लाइव क्लास रूम पढ़ाई समझ सकेंगे. अधिकांश स्कूल अब ऑनलाइन क्लासेज चलाने के मूड में नहीं है. ऐसे में अगस्त के अंत तक यह ऑनलाइन की व्यवस्था जारी रहेगी और उसके बाद ऑनलाइन पढ़ाई के बारे में आगे का निर्णय लिया जाएगा.’ : सीबी सिंह, अध्यक्ष, इंडिपेंडेंट स्कूल एसोसिएशन

डॉ सीबी सिंह ने कहा कि स्कूलों में 7 अगस्त से ही कक्षा 9वीं से ऊपर के क्लासेस चल रहे हैं. ऐसे में सभी स्कूलों में साफ-सफाई और सैनिटाइजेशन की व्यवस्था पहले से ही करा ली गई है. सभी स्कूल कोरोना के बाद से साफ-सफाई और हाइजीन पर विशेष ध्यान रख रहे हैं.

यह भी पढ़ें :  Bihar News : बर्थडे पार्टी में नाश्ता करने के बाद 20 बच्चों समेत 44 लोगों की बिगड़ी तबीयत, दो की हालत गंभीर.

उन्होंने कहा कि अभी के समय बच्चों का फिजिकल इंटरेक्शन एक दूसरे से अधिक ना हो इसके लिए स्कूल में अभी कोई खेलकूद जैसे कार्यक्रम पूरी तरह से बंद रहेंगे. सामान्य रूप से विद्यालय 6 से 7 घंटे चलते हैं. अभी वह 4 से 5 घंटा का ही चलेगा.

लंबे समय से बच्चे स्कूल नहीं आए हैं. ऐसे में स्कूल की आदत में ढलने के लिए सभी स्कूल प्रबंधन द्वारा ऐसा निर्णय लिया गया है. बच्चे जब इस आदत में ढल जाएंगे तब फिर स्कूल पहले जैसा 6 से 7 घंटे का चलने लगेगा.

पटना के कुर्जी इलाके में चलने वाले जयपुरिया स्कूल की प्राचार्या पूनम कुमारी सिंह ने कहा कि नवीं से ऊपर की कक्षाएं चल रहीं हैं. ऐसे में सैनिटाइजेशन और हाइजीन को लेकर पूरा ध्यान रखा जा रहा है. थर्मल स्क्रीनिंग की भी व्यवस्था है.

उन्होंने बताया कि प्राइमरी क्लास के कई बच्चों के अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने को तैयार नहीं है. ऐसे में उनके लिए क्लास अभी ऑनलाइन चलाने की व्यवस्था की गई है. क्लासेज अल्टरनेट बेसिस पर चलेंगे.

यह भी पढ़ें :  अब प्राइवेट स्कूलों में भी टीचर बनने के लिए टीईटी जरूरी, लागू होगी नई व्यवस्था | Private School Teacher Appointment.

3 दिन ऑनलाइन तो तीन दिन ऑफलाइन क्लासेस चलेंगे. क्लास रूम में बच्चों के बैठने के लिए भी सीटिंग अरेंजमेंट में विशेष व्यवस्था की गई है. बच्चों के बीच डिस्टेंस मेंटेन रहे. मास्क सभी के लिए अनिवार्य है. लंच आवर बढ़ाया गया है.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page