Follow Us On Goggle News

Raids in Jail : बिहार के राजधानी पटना के बेऊर सहित कई जेलों में एक साथ छापेमारी, कैदियों में मचा हड़कंप.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Raids in Jail : छापेमारी के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बलों को लगाया गया है. डीएम-एसपी के नेतृत्व में जेल में छापेमारी के दौरान पुलिस कर्मियों ने कैदियों के वार्डों को बारीकी से खंगाला. अंदेशा रहता है कि कैदी नशीले पदार्थों सहित कई आपत्तिजनक चीजों का इस्तेमाल करते हैं, पुलिस इसकी जांच कर रही है.

Raids in Jail : बिहार में बेहतर कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस (Bihar Police) और सख्त हो गई है, इसी को लेकर प्रदेश के विभिन्न जिलों में पुलिस जेलों में छापेमारी (Raid in jail) कर रही है. अचानक हो रही छापेमारी से जेलों में हड़कंप मच गया है. प्रशासनिक अधिकारी जेल के अंदर छापेमारी करने पहुंचे हैं. कई जिलों के डीएम, एसपी सहित तमाम बड़े अधिकारी के साथ सैकड़ों पुलिसकर्मियों ने जेल के अंदर रेड की. बिहार के पुलिस जवान और अधिकारी एक्शन मोड में दिख रहे हैं.

खगड़िया, बेगूसराय, सिवान, अररिया और वैशाली सहित कई जेलों में छापेमारी चल रही है. इस दौरान पुलिस को कई आपत्तिजनक सामान बरामद हुआ है. छापेमारी के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बलों को लगाया गया है. डीएम-एसपी के नेतृत्व में जेल में छापेमारी के दौरान पुलिस कर्मियों ने कैदियों के वार्डों को बारीकी से खंगाला. अंदेशा रहता है कि कैदी नशीले पदार्थों सहित कई आपत्तिजनक चीजों का इस्तेमाल करते हैं. पुलिस इसकी जांच कर रही है.

यह भी पढ़ें :  Breaking News : राजधानी पटना में एक व्यक्ति को अपराधियों ने मारी गोली, घटनास्थल पर ही हुई मौत.

 

पटना: राजधानी पटना के बेऊर जेल में भी पुलिस ने छापेमारी की. डीएम और एसपी के नेतृत्व में पुलिस ने कई घंटों तक जेल का कोना-कोना खंगाला. बेऊर जेल अधीक्षक जितेंद्र कुमार ने ईटीवी भारत से टेलिफोनिक बातचीत के दौरान बताया कि यह छापेमारी खुद से जेल प्रशासन द्वारा की जा रही है. अभी छापेमारी चल रही है और अभी तक किसी भी तरह का आपत्तिजनक सामान बरामद नहीं हुआ है. हालांकि पूरे जेल की छापेमारी करने में करीबन 2 से 3 घंटे का समय लगता है.

खगड़िया: मंडल कारा में डीएम एसपी के नेतृत्व में अचानक छापेमारी की गई. ये एक घंटे से अधिक समय तक चली. छापेमारी में डीएम, एसपी समेत कई थानों की पुलिस शामिल हुई. छापेमारी के बाद डीएम आलोक रंजन घोष ने बताया कि खगड़िया जेल से कोई भी आपत्तिजनक सामान बरामद नहीं किया गया है.

 

अररिया: अररिया के मंडल कारा में भी डीएम और एसपी ने छापेमारी की. सरकार के निर्देश पर बिहार के सभी जेलों में छापेमारी की जा रही है. इसी क्रम में सुबह आरएस स्थित मंडल कारा में डीएम प्रशांत कुमार के नेतृत्व में छापेमारी की गई. जानकारी के अनुसार इस छापेमारी में आधा दर्जन थाने की पुलिस को शामिल किया गया था. हालांकि अभी जानकारी नहीं मिल पाई है कि जेल के अंदर किस तरह की कार्रवाई हुई है. इस छापेमारी में डीएम प्रशांत कुमार, एसपी अशोक कुमार सिंह सहित कई वरीय अधिकारी शामिल हैं.

यह भी पढ़ें :  History Today : 15 जनवरी 1934 का प्रलंयकारी भूकंप, जिसे याद कर आज भी सहम जाते हैं लोग.

वैशाली: हाजीपुर के मंडल कारा में डीएम और एसपी के नेतृत्व में साढ़े तीन घंटे से अधिक समय तक छापेमारी की गई. डीएम उदिता सिंह और एसपी मनीष के नेतृत्व में भारी पुलिस बल के साथ जेल में छापेमारी की गई और मंडल कारा के सभी वार्डों की सघन तलाशी ली गई. लेकिन जेल से कोई भी आपत्तिजनक सामान नहीं मिला है. डीएम उदिता सिंह ने बताया कि यह रुटीन छापेमारी थी और रेड के दौरान जेल से कोई भी आपत्तिजनक सामान नहीं मिला है. छापेमारी इतनी गोपनीय तरीके से रखी गई थी कि इसकी भनक भी जेल प्रशासन को नहीं लगी.

 

छपरा: छपरा मंडल कारा में एडीएम सदर और एसडीपीओ सदर के नेतृत्व में छापेमारी कर तलाशी अभियान चलाया गया. कैदी वार्डों में व्यापक तलाशी अभियान के लिए भारी पुलिस बल का इंतजाम किया गया था. सारण जिले के आधा दर्जन से ज्यादा थानों की पुलिस और पुलिस केंद्र के जवानों के साथ छापेमारी हुई. इस तलाशी अभियान में शामिल एसडीपीओ सदर एमपी सिंह और एसडीपीओ सदर अरुण कुमार सिंह के नेतृत्व में कैदियों के वार्ड सहित जेल परिसर के भीतर सभी जगहों की तलाशी ली गई.

यह भी पढ़ें :  Bihar Politics: पत्रकार के इस सवाल पर हंस पड़े मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, कहा- ये सब बात सुनकर आ जाती है हंसी.

पूर्वी चंपारण: मोतिहारी में भी पुलिस ने मंडल कारा में छापेमारी की. इस दौरान कैदियों के सभी वार्डों की तलाशी ली गई.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page