Follow Us On Goggle News

नई जुगलबंदी : मौजूदा राजनीति को दर्शाता एक फ्रेम जिसमें बिहार का पक्ष और विपक्ष साथ-साथ.

इस पोस्ट को शेयर करें :

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में राज्य के 10 दलों के प्रतिनिधिमंडल ने देश भर में जाति आधारित जनगणना कराए जाने के समर्थन में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. प्रतिनिधिमंडल में मुख्यमंत्री के अलावा राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) समेत कई अन्य दलों के प्रतिनिधि भी शामिल थे.

cast-based-census-1

नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव ने जाति आधारित जनगणना का मजबूती से समर्थन किया. तेजस्वी यादव और नीतीश कुमार दोनों की एक साथ तस्वीरें चर्चा में हैं.

cast-based-census-2

 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए 

यहाँ क्लिक करें.

यह पूछे जाने पर कि कुमार की जनता दल (यूनाइडेट) पार्टी और आरजेडी ने इस मामले पर हाथ मिलाया है, तो क्या दोनों दल निकट आ रहे हैं, तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में विपक्ष ने जन समर्थक और राष्ट्रीय हित के कदमों के लिए सरकार का हमेशा समर्थन किया है.

cast-based-census-3

तेजस्वी यादव ने जाति आधारित जनगणना के समर्थन में कहा कि यह गरीबों के लिए मददगार साबित होने वाला ‘ऐतिहासिक’ कदम होगा. उन्होंने कहा कि यदि जानवरों और पेड़ों की गणना की जा सकती है तो लोगों की भी गणना की जा सकती है.

यह भी पढ़ें :  Muzaffarpur News : सकरा में घर मे महिला की संदिग्ध स्थिति में मौत, इलाके में फैली सनसनी.

cast-based-census-4

मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनकी बात धैर्य से सुनी. इस मामले पर प्रधानमंत्री के रुख के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने इसे (जाति आधारित जनगणना को) खारिज नहीं किया और हरेक की बात सुनी.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page