Follow Us On Goggle News

Patna Civil Court Bomb Blast : पटना सिविल कोर्ट में बम ब्लास्ट, दो पुलिस कर्मी घायल, प्रशासनिक महकमा में हड़कंप.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Patna Civil Court Bomb Blast : राजधानी पटना में एक बार फिर कोर्ट में ब्लास्ट हुआ है. बम ब्लास्ट होने से दो दारोगा घायल हो गए हैं. इसके बाद पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी सिविल कोर्ट पहुंचे, जहां घटनास्थल की जांच की गई. घटनास्थल से साक्ष्य एकत्रित किए गए हैं.

Patna Civil Court Bomb Blast: बिहार के राजधानी पटना के सिविल कोर्ट में शुक्रवार की दोपहर बम ब्लास्ट हुआ। ब्लास्ट इतना जोरदार रहा कि पूरा कोर्ट परिसर सन्न रह गया। इसमें अगमकुआं थाने के दो दारोगा घायल हो गए। इसके बाद पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी दौड़े-दौड़े सिविल कोर्ट पहुंचे। घायल दोनों दारोगाओं को पीएमसीएच में भर्ती करवाया गया है।

एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो और सिटी एसपी घटना की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। दरअसल, कोर्ट में अगमकुआं पुलिस बरामद बम को सीन कराने के लिए लेकर आई थी। कोर्ट रूम में टेबल पर बम रखने के दौरान वह ब्लास्ट हो गया। इससे दो पुलिस कर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए।

एएसआई के दाहिने हाथ में चोट आई :

यह भी पढ़ें :  Crime News: PUBG खेलने से माँ ने रोका तो बेटे ने गोलीमारकर उतारा मौत के घाट, दो दिन तक शव के साथ ही रहा

घटना के संबंध में पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने कहा कि कदमकुआ पुलिस स्टेशन के एएसआई मदन सिंह के दाहिने हाथ में चोट आई है। हालांकि इस हादसे में किसी अन्य शख्स के घायल होने की सूचना नहीं है। पटना के सिविल कोर्ट में लो इंटेंसिटी ब्लास्ट की सूचना है। बता दें पीरबहोर स्टेशन से सिविल कोर्ट कुछ कदमों की दूरी पर स्थित है। घटना के तुरंत बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई।

मौके पर पहुंची बम निरोधक दस्ता एवं फॉरेंसिंक टीम :

घटना के बाद पीरबहोर पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद बम निरोधक दस्ता और फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची। घटना के बाद पुलिस टीम ने पूरे कोर्ट परिसर को घेर लिया।

अभियोजन कार्यालय में हुआ ब्लास्ट :

कदमकुआं पुलिस को एक जिंदा बम मिला था। इसे सबूत के तौर पर उस थाने के दारोगा उमाकांत राय कोर्ट लेकर पहुंचे थे। ताकि इसका अभियोजन पक्ष सत्यापन करा सके, लेकिन पेशी से पहले ही अभियोजन कार्यालय में बम विस्फोट हो गया। अब इसे पुलिस विभाग की बड़ी लापरवाही मानी जा रही है। उच्च अधिकारियों के आदेश के बाद यह जांच की जा रही है कि क्या बम को सही तरीके से डिफ्यूज नहीं किया गया था? इसकी जांच की जिम्मेदारी पीरबहोर थाने को दी गई है। 

यह भी पढ़ें :  Bihar News : खतरे में तेज प्रताप यादव का विधायक पद, संपत्ति का ब्यौरा नहीं देने की याचिका पर हुई सुनवाई.

 

patna blast Patna Civil Court Bomb Blast : पटना सिविल कोर्ट में बम ब्लास्ट, दो पुलिस कर्मी घायल, प्रशासनिक महकमा में हड़कंप.
(स्‍टील के डब्‍बे में रखा गया बारूद)

पटेल छात्रावास से बरामद हुआ था बारूद 

जानकारी के अनुसार पटेल छात्रावास से स्‍टील के डब्‍बे में बरामद बम को प्रादर्श के लिए अगमकुआं थाने के दारोगा उमाकांत राय व सिपाही सुबोध कुमार लेकर कोर्ट परिसर पहुंचे थे। कागजी कार्रवाई के दौरान टेबल पर रखा बम ब्‍लास्‍ट कर गया। ब्‍लास्‍ट की आवाज इतनी तेज थी कि पुलिसकर्मी सतर्क हो गए। अफरातफरी की स्थिति हो गई। पीरबहोर थाने की पुलिस भी पहुंची। मामला स्‍पष्‍ट होने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली। बताया जाता है कि बम में बारूद के साथ स्पिलंटर काफी कम मात्रा में था। इस कारण कम लोग जख्‍मी हुए। घायल हुए दारोगा व सिपाही को भी मामूली चोटें आई हैं। उनकी आंखों में जलन हो रही है। फिलहाल सुरक्षा के दृष्टि से कोर्ट परिसर में किसी को जाने नहीं दिया जा रहा है। मौके पर सिटी एसपी पहुंच गए हैं। मामले की जांच की जा रही है। बताया जाता है कि अग्निपथ योजना के विरोध के दौरान आइबी की रिपोर्ट पर पटना के कई हॉस्‍टलों में जांच की गई थी। इसी क्रम में पटेल छात्रावास से ये बारूद बरामद हुए थे। 

यह भी पढ़ें :  Begusarai News : युवक की मौत से नाराज भीड़ ने अस्पताल में की तोड़फोड़ - गाड़ियों में लगाई आग, पुलिस ने की फायरिंग.

पहले भी घटना में कोर्ट में हो चुका है बम ब्लास्ट :

पटना में इससे पहले भी बम ब्लास्ट की घटना हुई है। हालांकि पुलिस द्वारा बम लेकर सत्यापित कराने के दौरान ब्लास्ट की यह पहली घटना है। इससे पहले अपराधियों ने कोर्ट में गोलीबारी की है। दो अपराधियों के गुटों में गोलीबारी हुई है। कोर्ट में गवाह की हत्या कर दी गई थी। इस दौरान बम ब्लास्ट भी किया गया था। गनीमत रही कि आज बम ब्लास्ट में किसी की जान नहीं गई। आम लोगों को किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचा। हालांकि इससे कोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हुए हैं।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page