Follow Us On Goggle News

MLCs of Bihar: करोड़पति हैं बिहार के 90% एमएलसी, 63 प्रतिशत पर क्रिमिनल केस.

इस पोस्ट को शेयर करें :

MLCs of Bihar: विधान परिषद को राज्य का उच्च सदन कहा जाता है। इसलिए अपेक्षा की जाती है कि इसके सदस्य भी आदर्श के उच्चतर मानक के अनुरूप हों, लेकिन चुनाव सुधार के लिए काम करने वाली संस्था एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म (एडीआर) की रिपोर्ट बताती है कि बिहार विधान परिषद के 63 प्रतिशत सदस्यों पर आपराधिक मामले चल रहे हैं। इनमें 33 प्रतिशत पर तो गंभीर आपराधिक मामले हैं, जिनमें हत्या के प्रयास जैसे आरोप भी हैं। रिपोर्ट की एक बात और गौर करने वाली है कि इस सदन के 90 प्रतिशत सदस्य करोड़पति हैं। स्थानीय प्राधिकार से चुनकर आए सभी 24 सदस्य इसी श्रेणी के हैं।

एडीआर के बिहार प्रमुख राजीव कुमार ने अपनी ताजा रिपोर्ट सोमवार को जारी की है। इसमें 75 सदस्यीय विधान परिषद के 60 सदस्यों का सर्वेक्षण किया गया है। निर्वाचन के पहले प्रत्याशी के रूप में दिए गए शपथ पत्र को रिपोर्ट का आधार बनाया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 60 सदस्यों में से 38 ने अपने शपथ पत्र में स्वयं को आपराधिक मामले का आरोपी बताया है। इनमें से 20 ने गंभीर अपराध की बात कही है। नौ सदस्य हत्या के प्रयास के आरोपी हैं तो दो सदस्यों के विरुद्ध तो हत्या जैसे मामले चल रहे हैं। दो के खिलाफ महिला अत्याचार के भी आरोप हैं।

यह भी पढ़ें :  Internet Ban in Bihar: दोबारा कब शुरू होगा इंटरनेट, इस समय हटेगा इंटरनेट से बैन.

MLCs of Bihar सबसे ज्यादा भाजपा सदस्यों पर आपराधिक मामले:

एडीआर की रिपोर्ट बताती है कि सबसे ज्यादा भाजपा सदस्यों के विरुद्ध आपराधिक मामले चल रहे हैं। सर्वे में शामिल भाजपा के 16 सदस्यों में 11 के विरुद्ध आपराधिक मामले हैं। राजद के 14 में से दस और जदयू के 17 में आठ सदस्य किसी न किसी अपराध के आरोपी हैं। कांग्रेस के चार में तीन और भाकपा के सभी दो सदस्य आरोपी हैं। गंभीर अपराध के मामले में भाजपा और राजद के पांच-पांच एवं जदयू के सात सदस्य आरोपी हैं।

MLCs of Bihar सदस्यों की औसत संपत्ति 33.87 करोड़:

विधान परिषद के सभी 75 सदस्यों की औसत संपत्ति 33.87 करोड़ की है। सबसे धन्ना सेठ निर्दलीय सदस्य स’िचदानंद राय हैं, जिनकी चल-अचल संपत्ति 1108 करोड़ की है। दूसरे और तीसरे नंबर पर भाजपा के राजीव कुमार एवं अशोक अग्रवाल हैं। दोनों के पास क्रमश: 159 करोड़ एवं 101 करोड़ की संपत्ति है। सबसे कम राजद की मुन्नी देवी के पास मात्र 29 लाख की संपत्ति है, जबकि जदयू के नीरज कुमार के पास 49 लाख की संपत्ति है।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page