Follow Us On Goggle News

#JeeneDo | 16 साल की नाबालिग को उठाकर ले गए मनचले, नशे का इंजेक्शन देकर करते रहे गैंगरेप.

इस पोस्ट को शेयर करें :

मधुबनी में एक नाबालिग लड़की को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप ( Madhubani Gang Rape ) करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पीड़िता के आवेदन पर गांव के ही 4 युवकों के खिलाफ नामजद केस (FIR) दर्ज कर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.

बिहार के मधुबनी में एक नाबालिग लड़की ( Minor Girl ) को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप ( Rape in Madhubani ) करने का मामला सामने आया है. पीड़िता के आवेदन पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और मामले की जांच में जुट गई है.

जानकारी के अनुसार, झंझारपुर थाना ( Jhanjharpur ) इलाके के एक गांव से नाबालिग 13 अगस्त की रात से गायब थी. पीड़ित परिवार के अनुसार, उस रात उनकी बेटी घर के पास ही चापाकल पर थाली धोने गई थी. उसकी वक्त गांव के ही चार लड़कों ने उस जबरन अगवा कर लिया और नशीली दवा लगाकर बेहोश कर दिया.

यह भी पढ़ें :  Driving License : अब घर बैठे ही बनवाएं अपना ड्राइविंग लाइसेंस, ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया जानने के लिए यहां देखें पूरा प्रोसेस.

पीड़ित परिवार के अनुसार, पीड़िता रात भर घर से लापता थी और सुबह में घर के पास बेहोशी की हालत में मिली. होश में आने पर परिजनों को जब उसने अपने साथ हुई हैवानिय की कहानी सुनाई तो पूरे परिवार के होश उड़ गए. आनन-फानन में पीड़ित परिवार थाने पहुंचा और आरोपियों के खिलाफ थाने में मामला दर्ज कराया. इसके बाद पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल के लिए झंझारपुर अनुमंडल अस्पताल भेज दिया.

प्रशिक्षु डीएसपी सह झंझारपुर थानाध्यक्ष नेहा कुमारी ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. दर्ज प्राथमिकी के अनुसार 16 वर्षीय लड़की जब 13 अगस्त की रात अपने चापाकल पर थाली धोने के लिए गई थी. उसी दौरान घात लगाए चार युवकों ने उसका अपहरण कर लिया. रात भर लड़की गायब रही. अगले दिन घर के पास ही बेहोशी की हालत में मिली. इसके बाद लड़की को अनुमंडल अस्पताल झंझारपुर लाया गया, जहां होश में आने के बाद लड़की ने रात में अपने साथ हुई सारी बातें बताई.

यह भी पढ़ें :  Bihar Flood : भोजपुर में गंगा में डूबकर 3 बहनों की दर्दनाक मौत, पैर फिसलने की वजह से हुआ हादसा.

पीड़िता ने गांव के ही 25 वर्षीय सुनील भंडारी, 25 वर्षीय सुशील भंडारी, 26 वर्षीय प्रदीप कुमार कामत और 21 वर्षीय सुरेंद्र कुमार भंडारी नामजद किए गए हैं. आरोपियों में एक पीड़िता के भाई का दोस्त बताया जा रहा है. पुलिस के अनुसार, पीड़िता के पिता के आवेदन के आधार पर नामजद केस दर्ज कर पूरे मामले की तफ्तीश में जारी है और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page