Follow Us On Goggle News

Bihar Politics : RJD में जींस पहनने वालों की नहीं होगी एंट्री! जगदानंद बोले- ‘ऐसे लोग कभी नेता नहीं बन सकते.’

इस पोस्ट को शेयर करें :

RJD के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने सार्वजनिक रूप से कहा है कि जींस पहनने वाले कभी राजनीति नहीं कर सकते. ऐसे में माना जा रहा है कि आरजेडी में जींस पहनने पर रोक लगा दी गई है.

आरजेडी ( RJD ) में जींस पहनने वालों की इंट्री पर रोक लगा दी गई है. हालांकि इसको लेकर कोई लिखित आदेश जारी नहीं किया गया है, लेकिन प्रदेश आरजेडी के अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने सार्वजनिक रूप से कहा है कि जींस पहनने वाले कभी राजनीति नहीं कर सकते हैं.

दरअसल, शनिवार को जातीय जनगणना ( Caste Census ) की मांग को लेकर आरजेडी नेता प्रदर्शन कर रहे थे. इस दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जगदानंद सिंह ( Jagdanand Singh ) ने कहा कि हमारी पार्टी गरीबों की पार्टी है, किसानों की पार्टी है, संघर्ष करने वालों की पार्टी है.

इसी दौरान उन्होंने आरएसएस ( RSS ) पर तंज कसते हुए कहा कि जींस पहनने वाले, कभी नेता नहीं बन पायेंगे. जो धरना पर नहीं बैठ रहे हैं वह RSS के कार्यकर्ता हैं और हमारे जुलूस में घुस आए हैं.

यह भी पढ़ें :  Murder in Begusarai : बेगूसराय में अपराधियों का दुस्साहस, छात्र को अगवा कर तेजाब से नहला कर हत्या.

धरना स्थल पर खड़े लोगों से उन्होंने कहा- ‘फिल्म की शूटिंग कराने आए हो क्या? अगर राजनीति करने आए हो तो धरना पर बैठो. आंदोलन करना सीखो, यह युवा नेताओं के लिए ट्रेनिंग का समय है. हमारा अधिकार छीना गया है इसलिए हमें लंबी लड़ाई लड़नी है.

गौरतलब है कि आरजेडी की ओर से शनिवार को जाति जनगणना कराने, मंडल आयोग की शेष सिफारिशों को लागू करने और आरक्षण के दायरे में आने वाली बैकलॉग सीटों को भरने की मांग को लेकर जुलूस निकाला गया था.

पटना के इनकम टैक्स गोलंबर पर जुलूस को पुलिस ने रोक दिया था. उसके बाद जगदानंद सिंह सड़क पर धरने पर बैठ गए, लेकिन पार्टी के कई युवा नेताओं को सड़क पर बैठाने के लिए उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ी. इसी दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं से उक्त बातें कही.

बता दें कि जगदानंद सिंह लालू प्रसाद के करीबी लोगों में एक हैं. लालू-राबड़ी सरकार में मंत्री भी थे. वे काफी अनुशासन में रहते हैं और पार्टी के कार्यकर्ताओं से भी उम्मीद करते हैं कि अनुशासन में रहें.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page