Follow Us On Goggle News

NITI Aayog Report 2021: नीति आयोग की रिपोर्ट से CM नीतीश कुमार ने झाड़ा पल्ला, स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल सुनते ही कहा- पता नहीं.

इस पोस्ट को शेयर करें :

NITI Aayog Report 2021: नीति आयोग की रिपोर्ट में बिहार को स्वास्थ्य सुविधा के मामले में फिसड्डी बताया गया है. इस संबंध में पूछे गए सवाल पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जवाब दिया ‘पता नहीं’. तेजस्वी यादव ने इस पर तंज कसा है.

cm-nitish-tejashwi

NITI Aayog Report 2021 : नीति आयोग ने अपनी रिपोर्ट (NITI Aayog Report) में स्वास्थ्य सुविधा को लेकर बिहार की पोल खोलकर रख दी है. इसके बाद से प्रदेश में राजनीति चरम पर है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) नीति आयोग की बातों से शायद इत्तेफाक नहीं रखते हैं. तभी तो जब संवाददाता ने इस मुद्दे को लेकर पूछा तो नीतीश कुमार ‘पता नहीं’ कहकर चलते बने.

गांधी जयंती के मौके पर पटना के गांधी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने आए नीतीश कुमार से मीडियाकर्मियों ने नीति आयोग की रिपोर्ट को लेकर सवाल किया था. नीतीश कुमार से पहले स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय भी जवाब देने से कतराते नजर आए थे. मंगल पांडेय ने ‘चलिए ना..’ कहकर पल्ला झाड़ लिया था.

यह भी पढ़ें :  Bihar News : अयांश के माता-पिता की मुख्यमंत्री के जनता दरबार में नहीं सुनी गई गुहार, घंटों बैठने के बाद लौटे वापस.

 

इस मुद्दे को विपक्ष ने भुनाना शुरू कर दिया है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी सरकार पर तंज कसा है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा , पत्रकार: सर, नीति आयोग की रिपोर्ट ( NITI Aayog Report 2021) में बिहार सबसे फिसड्डी है. CM: ‘पता नहीं’. बिहार शिक्षा, स्वास्थ्य और सतत विकास सूचकांक में सबसे नीचे है. CM: ‘पता नहीं’. बिहार के मंत्रियों और विधायकों के घर डकैती हो रही है. अपराध कई गुणा बढ़ गया है. 70 घोटाले हो चुके हैं. CM: ‘पता नहीं’

अपने दूसरे ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा, जनता: श्रीमान फिर आपको पता क्या है? CM: ‘नीति, नियम, सिद्धांत, विचार बेच कुर्सी से कैसे चिपके रहे, जनता के सवालों से कैसे छिपते रहे और अखबारों में कैसे छपते रहे, यह सब पता है.’ जनता: तभी आपको 40 सीट मिली है और आप अनुकंपा पर CM हैं. CM: ‘पता नहीं’.

यह भी पढ़ें :  Bihar Politics: भोला राम तूफानी पर बिहार की राजनीति में मचा ‘तूफान’, कौन था यह शख्स? जानें पूरा किस्सा.

 

आपको बता दें कि नीति आयोग द्वारा जारी एसडीजी इंडिया इंडेक्स 2020-21 में बिहार को निचले पायदान पर रखा गया है. जिला अस्पतालों पर एक रिपोर्ट पेश किया गया है. NITI Aayog Report 2021 रिपोर्ट में आया है कि देश में जिला अस्पतालों में प्रति एक लाख आबादी पर औसतन 24 बिस्तर हैं. पुडुचेरी में जिला अस्पतालों में सर्वाधिक (औसतन 222) बिस्तर उपलब्ध हैं. वहीं, बिहार में सबसे कम छह बिस्तर हैं. बिहार को एसडीजी इंडिया इंडेक्स 2020-21 में 52 अंक मिला है. बिहार सबसे निचले पायदान पर है. बिहार से ऊपर अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, असम, उड़ीसा और झारखंड जैसे राज्य हैं.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page