Follow Us On Goggle News

Bihar Politics : बिहार में बदलेगी सियासत ? चिराग और तेजस्वी के साथ आने से ‘बेचैनी’ में हैं नीतीश कुमार.

इस पोस्ट को शेयर करें :

आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र (RJD Leader Bhai Virendra) ने नीतीश कुमार पर हमला करते हुए कहा कि तेजस्वी यादव और चिराग पासवान अगर साथ आ जाएं तो वाकई बिहार की सरकार की विदाई हो जाएगी. इसी बात के डर से उनको नींद नहीं आ रही है.

आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव (RJD Chief Lalu Yadav) ने एलजेपी नेता चिराग पासवान (LJP Leader Chirag Paswan) की तारीफ के बाद बिहार की सियासत में गरमा गई है. अब पार्टी नेता भाई वीरेंद्र (Bhai Virendra) ने भी कहा है कि अगर चिराग पासवान और तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) साथ आ जाएं तो नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की सरकार की विदाई तय हो जाएगी.

दिल्ली में दिए लालू यादव के बयान को लेकर पार्टी नेताओं में गजब का उत्साह दिख रहा. विधायक और मुख्य प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने कहा कि चिराग और तेजस्वी के साथ आने की सोचकर ही सीएम नीतीश कुमार की बेचैनी बढ़ गई है.

यह भी पढ़ें :  CM of Bihar : क्या आप जानते हैं बिहार के पहले मुख्यमंत्री कौन थे ? 75 सालों में 33 लोग बन चुके हैं मुख्यमंत्री. | List of chief ministers of Bihar

भाई वीरेंद्र ने कहा कि जनता इन दोनों युवाओं को पसंद करती है और चाहती है कि वे साथ आ जाएं. उन्होंने कहा कि अगर यह दोनों युवा नेता एक साथ आएंगे तो बिहार में वर्तमान सरकार की विदाई तय है. वहीं केंद्र से भी मोदी सरकार की विदाई हो जाएगी.

“बिहार की जनता की निगाहें इन दोनों युवाओं पर है कि वे कंधे-कंधे से मिलाकर इस सरकार को विदा करें. इस वजह से नीतीश कुमार की बेचैनी तो बढ़ी हुई है और इनको नींद नहीं आ रही है”- भाई वीरेंद्र, प्रवक्ता, आरजेडी.

दरअसल, दिल्ली में पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में लालू ने कहा, ‘एलजेपी में टूट से चिराग पासवान बड़े नेता के तौर पर उभर कर सामने आए हैं. पूरा दलित, महादलित समुदाय चिराग के साथ मजबूती से खड़ा दिख रहा है. उन्होंने कहा कि तेजस्वी और चिराग साथ आएं तो अच्छा रहेगा.’

यह भी पढ़ें :  Bihar Crime: सुपौल में व्यापारी से दिनदहाड़े लूट, पुलिस ने पीड़ित को ही थाने में घंटों बैठाया

वहीं, लालू यादव के बयान से चिराग पासवान भी काफी खुश दिखे. पटना में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा, ‘अगर हमारे अभिभावक (लालू यादव) इस तरह की बात कहते हैं तो यह हमारे लिए सम्मान की बात है.’

हालांकि मीडिया ने जब उनसे पूछा कि लालू ने कहा है कि चिराग और तेजस्वी को एक साथ आ जाना चाहिए, तब एलजेपी नेता ने कहा कि अभी मेरी पहली प्राथमिकता आशीर्वाद यात्रा है. इसी को लेकर मैं काम कर रहा हूं, इस बारे में बाद में बात करूंगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page