Follow Us On Goggle News

Bihar News : सीएम नीतीश में जनता दरबार में आए फरियादी ने कहा – ‘अच्छे थे लालू..तब एक पर्ची पर सुनी जाती थी फरियाद.

इस पोस्ट को शेयर करें :

सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के जनता दरबार (Janata Darbar) में दानापुर से पहुंचे छीलन ठाकुर जब नीतीश कुमार से नहीं मिल पाए तो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की तारीफ में जमकर कसीदे पढ़ने लगे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के जनता दरबार (Janata Darbar) में बिना रजिस्ट्रेशन कराए बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं. कई लोगों को तो पता ही नहीं है कि सीएम को समस्या बताने के लिए रजिस्ट्रेशन भी कराना होता है. दानापुर के कटाव ग्रस्त इलाके से पहुंचे छीलन ठाकुर उन्हीं में से एक हैं. छीलन ठाकुर जब नीतीश कुमार से नहीं मिल पाए तो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की जमकर तारीफ करने लगे.

छीलन ठाकुर का कहना था कि लालू के समय ऐसा नहीं होता था. लालू प्रसाद यादव गरीबों के मसीहा हैं और जल्द ही फिर बिहार लौटेंगे. नीतीश कुमार से छीलन ठाकुर इसलिए भी नाराज हैं, क्योंकि अवैध बालू कारोबार पर सरकार ने शिकंजा कस रखा है, जिसके कारण गरीब बेरोजगार हो गए हैं.

यह भी पढ़ें :  Bihar News: बिहार के 20 जिलों में बनेगा खादी मॉल, बुनकरों को मिलेगा बेहतर बाजार- शाहनवाज हुसैन.


(वीडियो साभार : etvbharat.com)

”हमको नहीं पता था कि जनता दरबार में नीतीश कुमार से मिलने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा. ये सब लालू प्रसाद के समय नहीं होता था. हम लोग उनके गेट पर जाते थे और लिख कर पुलिसवाले को देते थे और अंदर से लालू प्रसाद यादव का बुलाहट आ जाती थी.”- छीलन ठाकुर, फरियादी.

छीलन ठाकुर ने लालू प्रसाद यादव की जमकर तारीफ की और उनको गरीबों का मसीहा भी बताया. उनका कहना है कि जल्द ही लालू प्रसाद यादव बिहार आएंगे. जब उनसे पूछा गया कि नीतीश कुमार आखिर क्यों खराब है, इस पर उन्होंने कहा कि बालू ही बंद करा दिया, जिससे लोग बेरोजगार हो गए हैं.

बता दें कि कोरोना काल में मुख्यमंत्री के जनता दरबार कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लोगों को पहले रजिस्ट्रेशन कराना होता है. उसके बाद जिला प्रशासन के जरिए फरियादी अपनी शिकायत लेकर जनता दरबार में शामिल हो सकते हैं. छीलन ठाकुर जैसे कई लोग हैं जो जनता दरबार में मुख्यमंत्री से मिलने के लिए पहुंच तो रहे हैं, लेकिन पूरी प्रक्रिया के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है.

यह भी पढ़ें :  Bihar News अब जमीन से जुड़ी सभी कागजात को मिनटों में मोबाइल पर देखे, भूमि सुधार विभाग मंत्री ने लॉन्च किया नया सॉफ्टवेयर.

हालांकि, प्रशासन की तरफ से कई जगह पोस्टर बैनर लगाया गया है, लेकिन आने वाले लोग बड़ी संख्या में ऐसे हैं, जिन्हें पढ़ना ही नहीं आता है. ऐसे लोगों के लिए प्रशासन की तरफ से कोई खास इंतजाम नहीं किया गया है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page