Follow Us On Goggle News

Bihar Sand Rate: फिर बढे गिट्टी और बालू के दाम, घर बनाने वालों पर महंगाई की मार.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Sand Rate: बिहार के जिलों की नई सर्वे रिपोर्ट के बाद नए सिरे से बालू घाटों की बंदोबस्ती होगी। यह जानकारी विभाग के संयुक्त सचिव ने दी। उन्होंने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार सभी जिलों में तैयार सर्वे रिपोर्ट के आधार पर बालू घाटों की बंदोबस्ती की तैयारी हो रही है। लिहाजा, एक जून से ही बालूघाटों से बालू का खनन प्रतिबंधित कर दिया गया है। यहां से न तो बालू का खनन हो सकता है, न ही उनकी बिक्री की जा सकती है।

Bihar Sand Rate: केंद्र सरकार ने बढ़ती महंगाई पर अंकुश लगाने और लोगों को राहत देने के लिए डीजल और पेट्रोल पर टैक्स में कमी की। डीजल और पेट्रोल की दाम कम होने पर छड़ और सीमेंट के दाम में कमी आई लेकिन बालू और गिट्टी के दाम अब भी लोगों की मुसीबत बढ़ा रहा है। इसे आशियाना बनाने की योजना बना रहे लोगों को निर्माण सामग्री की बेतहाशा महंगाई से झटका लगा है।

यह भी पढ़ें :  Smart Prepaid Electricity Meter : स्मार्ट प्री-पेड मीटर का शुल्क एवं नियम जारी, जाने सभी शुल्क एवं नियम.

 

बालू-गिट्टी की बढ़ी हुई कीमतों ने आशियाना बनाने वालों के मंसूबों पर पानी फेर दिया है। बालू गिट्टी की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी से लोग मकान बनाने की योजना टाल रहे हैं। पिछले एक महीने में बालू की कीमत प्रति सौ सीएफटी 16 सौ रुपये क बढ़ गई है। इसी तरह गिट्टी की कीमत प्रति सौ सीएफटी दो हजार रुपये तक की बढ़ोतरी हुई है।

अचानक कीमत बढ़ने से लोग मकान बनाने से तौबा करने लगे हैं। व्यापारी भी बढ़ी कीमतों को लेकर परेशान हैं। कुछ लोग तो किसी तरह अपना घर बनाने में जुटे हुए हैं, जबकि कई लोगों ने या तो काम बंद कर दिया है या फिर कीमत घटने की आस में काम धीमा कर दिया है। मकान बनाने वाले लोगों की मानें तो बीते छह महीने में घर बनाने की लागत 40-50 फिसदी तक बढ़ गई है।

हलांकि पेट्रोल और डीजल के दाम की बढ़ती रफ्तार पर ब्रेक लगने के बाद सीमेंट और छड़ के दाम में नरमी आई है। पहले सौ सीएफटी बालू छह हजार से 65 सौ मिलती थी वह बढ़कर अब 95 सौ पर पहुंच गई है। उसमें भी बालों में क्वालिटी नहीं है। मिट्टी का मिक्सिंग बहुत ज्यादा है। इसी तरह गिट्टी के दाम पहले 75 सौ रुपये प्रति सीएफटी था जो बढ़कर 11500 रुपये पर पहुंच गया है।

यह भी पढ़ें :  Bihar Land Survey: चकबंदी के लिए राज्य में अब सर्वे के बाद ही चलेगा अभियान.

यही हाल ईंट का है। वर्तमान में 14500 हजार में 15 सौ मिलता था अब उसके लिए 16500 से 17000 रुपये देने पड़ते हैं। अच्छी क्वालिटी की सीमेंट 380 से 420 रुपये में मिल रहा है। वहीं छड़ 72 सौ रुपये क्विंटल बिक रहा है। कीमतों का असर सरकारी परियोजना पर भी पड़ा रहा है। काम की रफ्तार सुस्त हो गई है।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page