Follow Us On Goggle News

Bihar Rail News: बिहार में ट्रेन खड़ी कर दारु पीने चला गया ड्राइवर.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Rail News : समस्तीपुर से सहरसा जा रही सवारी गाड़ी शाम 4.05 बजे समस्तीपुर से सहरसा के लिए खुली थी, यह ट्रेन शाम 5.41 बजे हसनपुर रोड स्टेशन पर पहुंची. जहां चालक को सूचना दी गई कि राजधानी की क्रांसिंग होनी है. इसके बाद ट्रेन चालक संतोष कुमार को कर्मवीर ने ट्रेन से उतरते हुए कहा कि घुम टहल कर आते हैं. इस दौरान वह हसनपुर बाजार चला गया. जहां दुर्गा मंदिर के पास स्थित चाय दुकान में शराब पीकर हंगामा करने लगा.

 

Bihar Rail News: शराबबंदी वाले बिहार में एक अजीबो – गरीब मामला देखने को मिला है. जहां लोको पायलट ट्रेन रोककर शराब पीने निकल गया एवं शराब पीने के बाद उसने जमकर हंगामा किया. जिसके कारण समस्तीपुर से सहरसा जा रही सवारी गाड़ी संख्या 05278 करीब 1 घंटा तक हसनपुर रोड रेलवे स्टेशन पर रुकी रही. मामले की सूचना मिलने के बाद समस्तीपुर रेल मंडल के जीआरपी थाने की पुलिस ने हंगामा कर रहे लोको पायलट को गिरफ्तार कर थाने ले आई. हंगामा कर रहे लोको पायलट की पहचान बिहार के समस्तीपुर ज़िले के जितवारपुर निवासी शिव सागर राय के पुत्र कर्मवीर प्रसाद यादव (33 वर्ष) के रूप में हुई है. वहीं इस घटना की जानकारी के बाद रेलवे मुख्यालय में अधिकारियों में हड़कंप मच गया है. डीआरएम आलोक अग्रवाल के नेतृत्व में मामले को लेकर बैठक हुई है. डीआरएम आलोक अग्रवाल ने बताया कि मामला काफी गंभीर है. परिचालन विभाग से जानकारी मांगी गई है. रिपोर्ट आने के बाद दोषी चालक पर कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें :  Bihar Literacy : साक्षरता में नीचे से देश में सबसे नीचे पहुंचा बिहार, पीएम की आर्थिक सलाहकार परिषद की रिपोर्ट में खुलासा.

 

 

करीब घंटे भर रुकी रही ट्रेन :

घटना के संबंध में बताया गया है कि ट्रेन संख्या 05278 डाउन सवारी गाड़ी सोमवार को शाम 4.05 बजे समस्तीपुर से सहरसा के लिए खुली थी, यह ट्रेन शाम 5.41 बजे हसनपुर रोड स्टेशन पर पहुंची. इसी दौरान उप चालक ने मुख्य चालक संतोष कुमार से अनुमति लेकर स्टेशन के बाहर टहलने के लिए निकला. इसके बाद स्टेशन रोड स्थित दुर्गा मंदिर के निकट पहुंचने के बाद अंग्रेजी शराब का सेवन करना शुरू कर दिया.

 

ट्रेन के यात्रियों ने किया हंगामा :

इधर शराब का नशा परवान चढ़ने लगा तो उधर यात्रियों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. बिना कारण ट्रेन खड़ी देख स्टेशन अधीक्षक कार्यालय भी हैरान था. जीआरपी एवं आरपीएफ के जवानों को मुख्य चालक के पास भेजा गया. उससे पूछताछ की गयी तो बताया गया कि उप चालक शौच हेतु दो मिनट में आने की बात कहकर निकला था, मगर आधा घंटा से अधिक समय बीत जाने के बाद भी वापस नहीं लौटा है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Plot Lagan Increase: अब 3 गुनी हो जाएगी जमीन की लगान, नया सर्वे होते ही बढ़ेगा लगान.

 

शराब के नशे में मिला चालक :

इसके बाद जीआरपी और आरपीएफ के जवान उप चालक की खोज के लिए बाहर निकले तो एक व्यक्ति को दुर्गा मंदिर के समीप नशे की हालत में देखा. इसी बीच, मुख्य चालक भी वहां पहुंचा और नशेरी के उप चालक होने की पुष्टि की. पुष्टि होते ही जीआरपी ने उप चालक को गिरफ्तार कर थाने ले गयी.

 

अन्य चालक की सहायता से रवाना हुई ट्रेन :

पूरे घटनाक्रम के संबंध में स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि उप चालक को शराब पीने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है. सवारी गाड़ी पर सफर कर रहे सहरसा के ट्रेन चालक ऋतुराज कुमार को विशेष आग्रह किया गया और उन्होंने उप चालक का प्रभार ग्रहण किया. ट्रेन को यहां से रवाना कर दिया गया है. जीआरपी थानाध्यक्ष श्यामदेव यादव ने बताया कि मेडिकल जांच रिपोर्ट आने के साथ ही उप चालक के विरुद्ध बिहार उत्पाद अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जेल भेज दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें :  Mukhiya ji will get Arms: इस दिन 'मुखिया जी' को मिलेगा पिस्तौल, पिस्टल लेकर घूमेंगे 'मुखिया जी', हथियार को लेकर आदेश जारी.

 


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page