Follow Us On Goggle News

Bihar Nagar Nigam Election: ऑनलाइन भी होगा नगर निकाय चुनाव में नामांकन, राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलाधिकारियों को दिया निर्देश.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Nagar Nigam Election: बिहार में नगर निकाय चुनाव के दौरान ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों तरीके से नामांकन पत्र दाखिल किए जाएंगे। इसके पूर्व पंचायत चुनाव में राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा पहल की गई थी। फिलवक्त राज्य में कोरोना संक्रमण के मामले कम होने के बावजूद इस व्यवस्था को लागू रखने का निर्णय लिया गया है।

आयुक्त, राज्य निर्वाचन आयोग ने इस संबंध में सभी जिलों के जिलाधिकारी सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी, नगरपालिका को आवश्यक तैयारी करने का निर्देश दिया है। जानकारी के अनुसार आयोग ने सभी जिलों में प्रतिदिन नामांकन पत्र दाखिल किए जाने पर उनको तत्काल डिजिटाइज करने के लिए आवश्यक तकनीकी सुविधाएं भी जुटाने का निर्देश दिया है। ताकि, कितने नामांकन पत्र दाखिल किए गए इसकी सूचना जिला निर्वाचन पदाधिकारी, नगरपालिका एवं राज्य निर्वाचन आयोग को भी हो सके। इसके अतिरिक्त आयोग ने जिलों को निकाय चुनाव से संबंधित आवश्यक फॉर्म एवं नाजिर रसीद प्रिंट कराकर रखने का भी निर्देश दिया है। इस फॉर्म को बिहार नगरपालिका निर्वाचन नियमावली, (यथा संशोधित) के अनुसार प्रकाशित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :  Gandhi Setu Patna Bridge : गांधी सेतु के दोनों लेन पर जल्द शुरू होगा परिचालन, पूर्वी लेन पर काम जल्द होगा पूरा.

आयोग की वेबसाइट पर लिंक उपलब्ध कराया जाएगा ऑनलाइन नामांकन दाखिल किए जाने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर लिंक उपलब्ध कराया जाएगा। इसमें सभी आवश्यक कागजातों के साथ नामांकन पत्र ऑनलाइन दाखिल किये जा सकेंगे। वहीं, ऑनलाइन नामांकन के बाद उसका प्रिंट निकाल कर उसे निर्वाची पदाधिकारी द्वारा जारी सूचना में बताए गए स्थान पर नामांकन दाखिल करना होगा। प्रत्याशियों का नामांकन कब से कब तक कैसे करना है, इसके लिए समय सीमा भी निर्धारित की जाएगी। सुबह 1000 बजे से शाम 400 बजे तक नामांकन पर्चा जमा हो जाना चाहिए।

पदाधिकारियों को तैयार रहने का निर्देश : Bihar Nagar Nigam Election

नगर निकाय आम चुनाव को लेकर सभी निर्वाची पदाधिकारी एवं सहायक निर्वाची पदाधिकारी को तैयार रहने का निर्देश दिया गया है। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार नगर निकाय आम चुनाव,2022 के लिए नामांकन, आदर्श आचार संहिता, मतदान एवं मतगणना से संबंधित प्रशिक्षण तीन दिनों तक दिया गया। ऑनलाइन प्रशिक्षण के दौरान सभी पदाधिकारियों को आयोग के वरिष्ठ अधिकारियों एवं विशेषज्ञों ने प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण के दौरान आयोग के आईटी विशेषज्ञों की टीम भी मौजूद थी।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page