Follow Us On Goggle News

Bihar Floods : कोशी नदी की तेज धार में बहे चार युवक, तीन को किया गया रेस्क्यू, एक की तलाश जारी.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Floods : सुपौल जिले मेंकोसी नदी में नहाने गए चार युवक नदी की तेज धारा में बह गए. घटना के तुरंत बाद पानी की तेज धार में बह रहे युवकों को ग्रामीणों ने नाव की मदद से बचाया. जबकि, एक 22 वर्षीय युवक का अब तक पता नहीं चल पाया है.

 

Bihar Floods : बिहार के सुपौल जिले में कोसी नदी में नहाने गए चार युवक नदी की तेज धारा में बह गए. घटना के तुरंत बाद पानी की तेज धार में बह रहे युवकों को ग्रामीणों ने नाव की मदद से बचाया. जबकि, एक 22 वर्षीय युवक का अब तक पता नहीं चल पाया है. स्थानीय गोताखोर और एनडीआरएफ की टीम उसकी खोजबीन में जुटे हुए हैं. कल देर शाम तक सर्च ऑपरेशन चलाया गया. लेकिन अंधेरा होने के बाद उसे बंद कर दिया गया. आज सुबह से सर्च अभियान जारी है. घटना रतनपुरा थाना क्षेत्र के नरपत पट्टी पास की है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Flood Update: बिहार के 16 जिलों में बाढ़ से तबाही, 32 लाख लोग प्रभावित, कई गांवों का मुख्यालय से टूटा संपर्क.

दशहरा मनाने आया था घर : लापता युवक की पहचान 22 वर्षीय नीतीश कुमार मेहता के रूप में की गई है, जो जिले के सातनपट्टी पंचायत के वार्ड नंबर-8 का रहने वाला है. वह लैब टेक्नीशियन की पढ़ाई करता है. प्राप्त जानकारी के अनुसार नीतीश कुमार मेहता दशहरा पूजा मनाने घर आया था और गुरुवार को अपने चार दोस्तों के साथ कोसी तटबन्ध के 18 किलोमीटर स्पर के नजदीक नदी में स्नान करने गया था. इसी दौरान नदी के तेज बहाव में चारों दोस्त बह गए. तीन दोस्तों को पास में मछली मार रहे मछुवारों ने किसी तरह बचा लिया.

घर में मचा कोहराम : हालांकि, जब तक नीतीश को बचाने की कोशिश की गई, तब तक वह नदी की धार में आगे निकल गया था. शोर मचाने पर तटबन्ध के किनारे भारी भीड़ जमा हो गई. ऐसे में सीओ बसन्तपुर और एनडीआरएफ की टीम को सूचना दी गई. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे अधिकारी गोताखोरों द्वारा युवक की तलाश कराने लगे. समाचार सम्प्रेषण तक युवक बरामद नहीं हो सका था. मौके पर अधिकारी समेत कई अन्य लोग मौजूद थे. स्वजनों में कोहराम मच हुआ था.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page