Follow Us On Goggle News

Bihar Crime : हाथ जोड़कर रहम की भीख मांगता रहा शख्स लेकिन मारकर गाड़ दिया, RJD बोला- ‘..फिर इंसान की बलि’

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Crime : कथित तौर पर जेडीयू कार्यकर्ता मोहम्मद खलील आलम का वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें मौते से पहले शख्स हाथ जोड़ रहम की भीख मांगता रहा, लेकिन कथित गौरक्षकों ने उसकी हत्याकर लाश को पहले जलाया फिर गाड़ दिया. आरजेडी ने इस वीडियो को शेयर करते हुए ट्वीट कर कहा कि ‘गाय के नाम पर बिहार में जबरन एक और इंसान की बलि.’

 

Bihar Crime :  बिहार के समस्तीपुर में जेडीयू कार्यकर्ता की हत्या (JDU Worker Murdered in Samastipur) के बाद एक तरफ जहां सूबे की सियासत गरमा गई है, वहीं उस शख्स का एक वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिसमें कि वह शख्स मौत से पहले हाथ जोड़कर रहम की भीख मांगता दिख रहा है. मुख्य विपक्षी पार्टी आरजेडी ने भी इस वीडियो को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है.

 

जिस जेडीयू कार्यकर्ता मोहम्मद खलील आलम की हत्या (JDU Worker Mohammad Khaleel Alam Murdered) की बात सामने आई है, वह इस वीडियो में भीड़ के सामने हाथ जोड़कर रहम की भीख मांग रहा है. हालांकि वीडियो में हमलावर दिखाई नहीं दे रहे हैं लेकिन पीड़ित को कई बातों का खुलासा करने के लिए मजबूर करते हुए सुना जा सकता है. हमलावर पीड़ित शख्स से पूछ रहे हैं कि कौन-कौन से लोग गोमांस बेचने में शामिल हैं? इस दौरान उसे भद्दी-भद्दी गालियां भी जा रही है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Wine Ban : शराबियों के लिए बुरी खबर, आपने शराब पी है या नहीं?

इस वायरल वीडियो को राष्ट्रीय जनता दल के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी ट्वीट किया गया है. साथ ही लिखा गया है, “गाय के नाम पर बिहार में जबरन एक और इंसान की बलि. बिहार सरकार ने विधि व्यवस्था को अपराधियों और माफिया के हाथों नीलाम कर दिया है. कभी भी कहीं भी कैसे भी कोई भी गुंडा किसी की भी आम हत्या कर देता है. नीतीश कुमार अपराध पर आपराधिक चुप्पी साधे हुए है. नीतीश से बिहार नहीं संभल रहा है.”

 

tejashwi yadav Bihar Crime : हाथ जोड़कर रहम की भीख मांगता रहा शख्स लेकिन मारकर गाड़ दिया, RJD बोला- '..फिर इंसान की बलि'

 

एनडीए सरकार में कानून व्यवस्था समाप्त :

तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीट में लिखा है कि बिहार के एनडीए सरकार में कानून व्यवस्था पूर्णतः समाप्त हो चुकी है. गाय के नाम पर मुस्लिम युवक जो स्वयं जेडीयू नेता था उसे पीट कर, जिंदा जलाकर दफना दिया गया. तेजस्वी ने सीएम नीतीश कुमार से सवाल किया कि बिहार में लगातार ऐसी घटनाएं क्यों हो रही हैं? लोग कानून को हाथ में क्यों ले रहे हैं?

यह भी पढ़ें :  Bihar Crime : पंचायत चुनाव से पहले खूनी रंजिश, आरा में हथियारबंद बदमाशों ने पूर्व मुखिया को मारी गोली.

हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद समस्तीपुर पुलिस ने कहा कि अभियुक्तों के द्वारा हत्याकांड से बचने के लिए सोशल मीडिया पर इसे वायरल कर सांप्रदायिक रंग देने की साजिश रची गई थी. पुलिस ने इस वायरल वीडियो को बनाकर वायरल करने वाले युवक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है.

ये है पूरा मामला :

आपको बताएं कि मोहम्मद खलील रिजवी की 11 फरवरी को अकबरपुर फकरिना गांव में हत्या कर दी गई थी और उसके शरीर को पेट्रोल डालकर आग लगाने के बाद एक पोल्ट्री फार्म में दफना दिया गया था. आरोपी ने शरीर को जल्दी से गलने के लिए नमक का भी इस्तेमाल किया. इस मामले पर पुलिस ने शुरुआती दौर में कहा कि पांच साल पहले विपुल कुमार से सरकारी नौकरी दिलाने और 3 लाख 60 हजार रुपये लेने का झूठा वादा करने के आरोप में रिजवी का 17 फरवरी को अपहरण कर उसे पोल्ट्री फार्म में ले गया और उसे बेरहमी से पीटा. उन्होंने उसके शरीर पर पेट्रोल डाला और उसे आग लगा दी. उसके जले हुए शरीर को एक गड्ढे में दबा दिया गया था. आरोपी ने उसके शव को जल्दी से सड़ने के लिए नमक भी डाला.

यह भी पढ़ें :  Bihar Crime: वेयर हाउस में विस्फोट, दो शख्स गंभीर रूप से घायल, जांच में जुटी पुलिस.

समस्तीपुर सदर के पुलिस उपाधीक्षक (DSP) मोहम्मद सेहबान हबीब फाकरी ने कहा, ‘हमने वीडियो के आधार पर विपुल कुमार को गिरफ्तार किया है. जांच के दौरान, उसने दावा किया है कि उसने रिजवी को पांच साल पहले एक सरकारी नौकरी दिलाने के लिए 3 लाख 60 हजार रुपये दिए थे. लेकिन वह न तो पैसे लौटा रहा था और न ही उसे कोई नौकरी दे रहा था.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page