Follow Us On Goggle News

Bihar Crime : सिवान में फिर खौफनाक वारदात, दुकानदार ने नहीं दी रंगादारी तो सीने में मारी गोली.

इस पोस्ट को शेयर करें :

लगता है सिवान में व्यवसाय करना आसान नहीं है. तभी तो अपराधी इनपर लगातार हमला कर रहे हैं. सप्ताह भर में तीसरी बार अपराधियों ने व्यवसायी को अपना निशाना बनाया है. इसबार रघुनाथपुर थाना अंतर्गत दुकानदार को गोली मारी गयी है.

बिहार के सिवान में लगातार आपराधिक घटनाएं (Crime In Siwan) हो रही हैं. एक बार फिर से यहां पर खौफनाक वारदात को अंजाम दिया गया है. सिवान के रघुनाथपुर थाना अंर्तगत गोलीबारी (Firing In Siwan) की घटना हुई है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

जानकारी के अनुसार, मुर्गा दुकानदार सलमान हसन अपनी दुकान पर बैठा हुआ था. तभी चार की संख्या में अपराधी आए और उससे रंगादारी मांगने लगे. सलमान ने रंगदारी देने से इंकार कर दिया. फिर क्या था अपराधियों ने एक के बाद एक चार राउंड फायरिंग की. इसमें से एक गोली सलमान के सीने में जा लगी.

यह भी पढ़ें :  Bihar Crime : कटिहार में फाइनांस कंपनी के कर्मी से अपराधियों ने कनपट्टी पर पिस्टल सटा लूट लिए 10 लाख रुपए.

पतार गांव निवासी सलमान हसन गोली लगने से वहीं पर गिर पड़ा. जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक सभी अपराधी भाग खड़े हुए. स्थानीय लोगों ने आनन-फानन में सलमान को सदर अस्पताल लाया. जहां से स्थिति गंभीर होने पर उसे पटना रेफर कर दिया.

इधर घटना की सूचना पर रघुनाथपुर थाना की पुलिस मौके पर पहुंची. सदर एसडीपीओ जितेंद्र पांडे भी पहुंचे. हालांकि अभी तक मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. बता दें कि एक जमाने में सिवान को क्राइम सिटी कहा जाता था. तत्कालीन सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन का यहां राज हुआ करता था.

हाल फिलहाल की बात करें तो सप्ताह भर के अंदर व्यवसायी पर यह तीसरा हमला है. एक दिन पहले यानी एक अगस्त को ही महाराजगंज के अफराद में अपराधियों ने स्वर्ण व्यापारी पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी. स्वर्ण कारोबारी की पहचान अफराद निवासी चंदेश्वर साह के 45 वर्षीय पुत्र टोनी सोनी के रूप में हुई थी. इससे पहले 25 जुलाई को ओरमा गांव के बाईपास पर अपराधियों ने एक युवक को गोली मार दी थी और फरार हो गए थे. सब्जी व्यवसायी राजू गुप्ता सीवान से दुकान बंद करके अपने घर जफरा जा रहा था. तभी बाइक सवार अपराधियों ने उसे घेरकर गोली मार दी.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page