Follow Us On Goggle News

Bihar Crime : बेतिया में शराब धंधेबाज को छुड़ाने के लिए पुलिस पर हमला, ग्रामीण और परिजनों ने बरसाए ईंट-पत्थर.

इस पोस्ट को शेयर करें :

बेतिया में शराब धंधेबाज को छुड़ाने के लिए पुलिस पर हमला, ग्रामीण और परिजनों ने बरसाए ईंट-पत्थर, 40 लोगों पर पुलिस ने मामले में दर्ज की एफआईआर.

 

बिहार के बेतिया जिले के मझौलिया में सोमवार की दोपहर एक शराब धंधेबाज को छुड़ाने के लिए ग्रामीण और उसके परिजनों ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया. गिरफ्तार शराब धंधेबाज को मझौलिया थाने की पुलिस मेडिकल जांच कराने के लिए पीएचसी लेकर गई थी जहां से उसे बेतिया रेफर कर दिया गया. इसी दौरान धंधेबाज रामजीत यादव के परिजन और गांव के कुछ लोगों ने पुलिस की गाड़ी देखते ही रामजीत यादव को छुड़ाने के लिए हमला कर दिया.

रविवार को ही धंधेबाज को किया गया था गिरफ्तार : इस हमले के दौरान लोगों ने पुलिस पर पथराव भी किया जिसमें पुलिस की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई. गुस्साए लोगों ने पुलिस की गाड़ी के पीछे का शीशा भी तोड़ दिया. इंस्पेक्टर सह मझौलिया थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि रविवार की शाम रामजीत यादव को दो लीटर देसी चुलाई शराब के साथ गिरफ्तार किया गया था, लेकिन रात में उसकी तबीयत खराब हो गई थी. अगले दिन सोमवार को उसे इलाज के लिए मझौलिया पीएचसी भेजा गया था.

यह भी पढ़ें :  Breaking News : मुजफ्फरपुर में इंजीनियर की गाड़ी से 18 लाख रुपये बरामद, स्कार्पियो में नोट भरकर जा रहे थे पटना.

पीएचसी में पहले से ही रामजीत के परिजन मौजूद थे. इसके बाद पुलिस की गाड़ी देखकर धक्का – 40 -मुक्की करते हुए उसे जबरन छुड़ाने लगे. इस दौरान ईंट-पत्थर से गाड़ी का शीशा फोड़ डाला. गांव वाले रामजीत यादव को देखते ही पुलिस से उलझ गए. घटना में पुलिस की गाड़ी का ड्राइवर रितेश कुमार भी घायल हो गया. हालांकि पुलिस ने धंधेबाज को नहीं छोड़ा. इस मामले में बैठनिया भनाचक पंचायत के 40 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. कुछ लोगों को चिह्नित भी किया गया है, जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने छापेमारी भी शुरू कर दी है.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page