Follow Us On Goggle News

10 New Medical Colleges: बिहार के दस नये जिलों में भी खुलेंगे मेडिकल कॉलेज, अब कुल 38 मेडिकल कॉलेज होंगे.

इस पोस्ट को शेयर करें :

10 New Medical Colleges: बिहार के सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। अभी 28 जिले में मेडिकल कॉलेज खुले हुए हैं। बाकी 10 जिलों में मेडिकल कॉलेज 10 New Medical Colleges का निर्माण आने वाले वर्षों में चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा। मंगलवार को भाजपा के रामनारायण मंडल के गैर सरकारी संकल्प के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने विधानसभा में यह जानकारी दी। 10 New Medical Colleges

 

रामनारायण मंडल ने बांका के लकड़ीकौला में खाली सरकारी जमीन का हवाला देते हुए मेडिकल कॉलेज खोलने का प्रस्ताव लाया था। इसका जवाब देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में अभी 11 चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल संचालित हैं। 10 New Medical Colleges

 

इनका संचालन आठ जिलों पटना, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, गया, नालंदा, बेतिया व मधेपुरा में हो रहा है। वहीं, केंद्र प्रायोजित योजना एवं विकसित बिहार के सात निश्चय योजना के तहत 11 और चिकित्सा महाविद्यालय व अस्पताल का निर्माण कराया जा रहा है। यह निर्माण समस्तीपुर, सारण, बेगूसराय, वैशाली, भोजपुर, मधुबनी, सीतामढ़ी, बक्सर, जमुई, सीवान व पूर्णिया में हो रहा है। दो जिलों मुंगेर व मोतिहारी में सरकारी चिकित्सा महाविद्यालय व अस्पताल का निर्माण सरकार के समक्ष प्रक्रियाधीन है। जबकि दरभंगा में एम्स की स्थापना का प्रस्ताव स्वीकृत है। 10 New Medical Colleges

यह भी पढ़ें :  Poisonous liquor Case : नालंदा में जहरीली शराबकांड! मृतकों की संख्या बढ़कर हुई 12, परिजनों का दावा-'शराब से हुई मौत'.

 

मंत्री ने कहा कि इसके अलावा राज्य के सात जिलों में आठ निजी चिकित्सा महाविद्यालय व अस्पताल संचालित हैं। ये जिले किशनगंज, कटिहार, रोहतास, सहरसा, मधुबनी, पटना व मुजफ्फरपुर हैं। 10 New Medical Colleges

इस तरह राज्य के 28 जिलों में सरकारी एवं निजी चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल संचालित हैं या निर्माणाधीन हैं। शेष अन्य 10 जिलों में सरकारी चिकित्सा महाविद्यालय व अस्पतालों का निर्माण की योजना है। आने वाले वर्षों में चरणवार तरीके से बाकी 10 जिलों में भी मेडिकल कॉलेजों का निर्माण होगा तो बांका को भी शामिल किया जाएगा। 10 New Medical Colleges


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page