Follow Us On Goggle News

Bihar Panchayat Elections : मुखिया-सरपंच के लिए जमा करना होगा ₹1000 फीस, जानिए अन्य पदों के लिए कितनी होगी जमानत राशि.

इस पोस्ट को शेयर करें :

मुखिया, सरपंच, जिला पार्षद, पंचायत समित सदस्य, वार्ड सदस्य और पंच के लिए बिहार में कल से नामांकन शुरू हो जाएगा. सभी पदों के लिए नामांकन शुल्क अलग-अलग निर्धारित किए गए हैं. ऐसे में आइये जानते हैं कि किस पद के लिए प्रत्याशियों को कितने रुपए जमा करने होंगे.

बिहार में पंचायत चुनाव (Panchayt Elections) की अधिसूचना जारी होने के साथ ही गहमागहमी तेज हो गई है. बुधवार से सभी छह पदों के लिए उम्मीदवार अपना नामांकन कर सकेंगे. राज्य निर्वाचन आयोग ने इसी के साथ चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए शुल्क भी निर्धारित कर दिया है.

राज्य में 11 चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव के तहत 2 लाख 55 हजार 22 पदों के लिए वोट डाले जाएंगे. राज्य निर्वाचन आयोग ने ग्राम कचहरी पंच और ग्राम पंचायत सदस्य का नामांकन शुल्क 250 रुपया निर्धारित है जबकि महिला, एससी, एसटी व अति पिछड़ा वर्ग के प्रत्याशियों के लिए नामांकन शुल्क 125 रुपये निर्धारित है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Panchayat Chunav 2021: पंचायत चुनाव में ई - रिक्शा से लेकर ट्रक और बस का किराया हुआ निर्धारित, जानिए किस वाहन को कितना मिलेगा किराया.

वहीं, मुखिया, सरपंच और पंचायत समिति सदस्यों के नामांकन शुल्क प्रति प्रत्याशी एक हजार निर्धारित किया है. इन तीनों पदों के लिए महिला, एससी, एसटी व अत्यंत पिछड़ा वर्ग के प्रत्याशियों को आधा शुल्क के रूप में 500 रुपये देने होंगे.

जबकि जिला परिषद के सदस्य के रूप में नामांकन करने पर नामांकन शुल्क दो हजार रुपये प्रति सदस्य निर्धारित है जबकि महिला, एससी, एसटी व अत्यंत पिछड़ा वर्ग के प्रत्याशी को एक हजार नामांकन शुल्क देय होगा. नामांकन करने के बाद यह शुल्क किसी भी दशा में प्रत्याशियों को वापस नहीं किया जा सकेगा.

इसके साथ ही राज्य निर्वाचन आयोग ने स्पष्ट कर दिया है कि किसी एक पद के लिए कोई प्रत्याशी अधिकतम दो सेट में ही नामांकन पत्र दाखिल कर सकता है. हालांकि उस प्रत्याशी को एक ही नामांकन शुल्क देना होगा.

राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश के मुताबकि उम्मीदवारों को नामांकन पत्र दाखिल करने के समय नियम 40 के अनुसार नामांकन शुल्क देना होगा. नामांकन शुल्क की निर्धारित राशि को कोषागार चालान या नगद राशि जमा कर नाजिर रसीद लगाना होगा. साथ ही नाम निर्देशन शुल्क किसी भी दशा में वापस नहीं किया जाएगा.

यह भी पढ़ें :  Bihar Panchayat Election 2021 Result Live : समस्तीपुर में बिक्रमपुर बांदे पंचायत से पंचायत समिति पद के लिए विजय कुमार राय चुनाव जीते.

वहीं, जिला परिषद के प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र के लिए नाम निर्देशन पत्र अनुमंडल कार्यालय में दाखिल किया जाएगा. जबकि ग्राम कचहरी, ग्राम पंचायत, पंचायत समिति सदस्य व प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र के लिए नाम निर्देशन पत्र प्रखंड कार्यालय में दाखिल किया जाएगा. नाम निर्देशन पत्र अभ्यर्थी के द्वारा स्वयं निर्वाची पदाधिकारी या सहायक निर्वाची पदाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करना है. किसी भी हालत में डाक या प्रस्तावक या किसी दूसरे व्यक्ति द्वारा दाखिल नहीं किया जाएगा.

किसी पद विशेष के लिए कोई भी व्यक्ति एक से अधिक अभ्यर्थी का प्रस्तावक नहीं बनेगा. कोई व्यक्ति जो स्वयं किसी निर्वाचन क्षेत्र का व्यक्ति है, उस निर्वाचन क्षेत्र के किसी अन्य व्यक्ति का प्रस्तावक नहीं होगा. अनारक्षित पद पर आरक्षित कोटि का कोई भी अभ्यर्थी चुनाव लड़ सकता है.

आपको बताएं कि पंचायत चुनाव के लिए 24 सितंबर, 29 सितंबर, 8 अक्टूबर, 20 अक्टूबर, 24 अक्टूबर, 3 नवंबर, 15 नवंबर, 24 नवंबर, 29 नवंबर, 8 दिसंबर और 12 दिसंबर को मतदान होगा. चुनाव आयोग ने बताया कि मुखिया के 8072 पद, ग्राम पंचायत सदस्य के 113307 पद, पंचायत समिति सदस्य के 11104 पद, जिला परिषद सदस्य के 1160, ग्राम कचहरी सरपंच के लिए 8072 और पंच के लिए 113307 पदों पर चुनाव होंगे. कुल 255022 पदों के लिए वोट डाले जाएंगे.

यह भी पढ़ें :  तेजस्वी का CM नीतीश पर हमला, कहा - 'बीजेपी और आरएसएस के साथ-साथ मुख्यमंत्री भी संघी हो चुके हैं.'


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page