Follow Us On Goggle News

Bihar Panchayat Chunav 2021: बिहार के दूसरे चरण में 34 जिलों के 48 का मतदान जारी, 1 प्रत्याशी का बदला चुनाव चिह्न.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Panchayat Chunav 2021 : बिहार पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में 34 जिलों के 48 प्रखंडों में मतदान किया जा रहा है. इस चरण में 76,289 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं. वोटिंग को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ( State Election Commission ) ने पुख्ता बंदोबस्त किए हुए हैं.

Bihar Panchayat Chunav 2021 : बिहार में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में दूसरे चरण के लिए मतदान (Voting) किया जा रहा है. दूसरे चरण में पटना (Patna) सहित बिहार के 34 जिलों के 48 प्रखंडों में वोट डाले जा रहे हैं. वोटिंग के लिए 9686 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. दूसरे चरण में कुल 76,289 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं. गांव की सरकार बनाने के लिए लोगों में उत्साह दिख रहा है. पोलिंग बूथ के बाहर लंबी-लंबी कतारें लगी हैं.

मधेपुरा जिले के बूथ संख्या 110 और 111 पर सुबह से मतदान कार्य बाधित है. जिला परिषद प्रत्याशी संजय कुमार रजक ने आरोप लगाया है कि ईवीएम में उनका चुनाव चिह्न बदला हुआ है. उनका चुनाव चिह्न चम्मच से बदलकर मछली कर दिया गया है. प्रत्याशी के आरोप के बाद स्थानीय लोगों ने मतदान कार्य का बहिष्कार किया है. लोग मतदान केंद्र के बाहर जमे हुए हैं.

अंचलाधिकारी योगेंद्र दास ने बताया कि तकनीकी खामी के चलते यह गड़बड़ी हुई. दरअसल संजय कुमार रजक का वास्तविक चुनाव चिह्न मछली छाप ही है. जिस समय उन्हें चुनाव चिह्न आवंटित किया जा रहा था सर्वर की गलती से मछली की जगह चम्मच छाप आवंटित कर दिया गया.

यह भी पढ़ें :  Bihar Panchayat Election: पंचायत चुनाव में मतदाता इस बार एक साथ बैलेट पेपर और ईवीएम से करेंगे मतदान, जानिए क्या है नियम.

मुजफ्फरपुर जिले के अधिकांश मतदान केंद्रों पर मतदाताओं के सत्यापन के लिए लगाया गया बायोमेट्रिक सिस्टम काम नहीं कर रहा है. इसके चलते बिना बायोमेट्रिक सत्यापन के ही मतदान कराया जा रहा है. खगड़िया जिले के अगुबानी मध्य विद्यालय में बने बूथ नंबर 296 पर ईवीएम में परेशानी सामने आई है. जिला परिषद के एक प्रत्याशी का बटन काम नहीं कर रहा है.

ईवीएम में खराबी के चलते मोतिहारी जिले के बूथ नंबर 109 पर मतदान सुबह 8 बजे तक शुरू नहीं हो सका. जिले के 6 बूथ पर ईवीएम में गड़बड़ी सामने आई थी, 5 बूथ पर ईवीएम ठीक कर मतदान शुरू करा दिया गया है. गोपालगंज जिले के विजयीपुर में पंचायत चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश से लगी सीमा सील की गई है. पगरा में ड्रॉप गेट बनाया गया है. विधि व्यवस्था को लेकर जगह-जगह मजिस्ट्रेट और भारी संख्या में पुलिस के जवान तैनात हैं. विजयीपुर प्रखंड के 13 पंचायतों में वोटिंग हो रही है.

सहरसा जिले के कहरा प्रखंड के बूथ नंबर 19 पर ईवीएम खराब होने के चलते मतदान बाधित हुआ. ईवीएम की बैट्री में परेशानी थी. करीब आधा घंटा तक मतदान बंद रहा. बाद में दूसरा ईवीएम लगाकर मतदान शुरू कराया गया. पटना जिले के पालीगंज प्रखंड के 334 मतदान केंद्रों पर वोटिंग हो रही है. पोलिंग बूथ के बाहर लंबी कतारें लगी हैं. मतदान के प्रति महिलाओं में खासा उत्साह दिख रहा है. बेगूसराय जिले के भगवानपुर प्रखंड के 216 बूथों पर मतदान हो रहा है. बूथ संख्या 99 और 109 पर ईवीएम खराब होने की सूचना है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Panchayat Chunav 2021 : 29 सितंबर को दूसरे चरण का मतदान, 34 जिलों के 48 प्रखंडों में भाग आजमाएंगे प्रत्याशी.

पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में पटना जिले के पालीगंज प्रखंड, बक्सर जिले का राजपुर प्रखंड, रोहतास जिले के रोहतास व नौहट्टा प्रखंड, नालंदा जिले के थरथरी व गिरियक प्रखंड, कैमूर जिले का दुर्गावती प्रखंड, भोजपुर जिले का पीरो प्रखंड, गया जिले के टिकारी व गुरारू प्रखंड, नवादा जिले का कौआकोल प्रखंड, औरंगाबाद जिले का नबीनगर प्रखंड, जहानाबाद जिले का घोसी प्रखंड, अरवल जिले का अरवल प्रखंड, सारण जिले का मांझी प्रखंड, सिवान जिले का सिवान सदर प्रखंड, गोपालगंज जिले का विजयीपुर प्रखंड, वैशाली जिले का हाजीपुर प्रखंड में मतदान हो रहा है.

इसके अलावा मुजफ्फरपुर जिले के मड़वन व सरैया प्रखंड, पूर्वी चंपारण जिले के मधुबन, फेहारा व तेतरिया प्रखंड, पश्चिमी चंपारण जिले का चनपटिया प्रखंड, सीतामढ़ी जिले के चोरौत व नानपुर प्रखंड, दरभंगा जिले के बेनीपुर व अलीनगर प्रखंड, मधुबनी जिले के पंडौल व रहिका प्रखंड, समस्तीपुर जिले के ताजपुर, पूसा व समस्तीपुर प्रखंड, सुपौल जिले का प्रतापगंज प्रखंड, सहरसा जिले का कहरा प्रखंड, मधेपुरा जिले का मधेपुरा प्रखंड, पूर्णिया जिले का बनमनखी प्रखंड, कटिहार जिले के कुरसेला, कटिहार, हसनगंज व डंडखोरा प्रखंड में मतदान किया जा रहा है.

वहीं, अररिया जिले का भरगामा प्रखंड, बेगूसराय जिले का भगवानपुर प्रखंड, खगड़िया जिले के जिला प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र संख्या 17 व 18, मुंगेर जिले के टेटियाबंबर प्रखंड, जमुई जिले का अलीगंज प्रखंड, भागलपुर जिले का जगदीशपुर प्रखंड और बांका जिले के बांका प्रखंड में भी वोटिंग हो रही है.

पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में पंच के 10353 पद, सरपंच के 699 पद, मुखिया के 699 पद, ग्राम पंचायत सदस्य के 10353 पद, पंचायत समिति सदस्य के 948 पद और जिला पार्षद सदस्य के 109 पदों के लिए मतदान किया जा रहा है. दूसरे फेस में 6 पदों के लिए 76,279 प्रत्याशियों ने पर्चा भरा था. इनमें 40,168 महिला और 36,111 पुरुष प्रत्याशी हैं.

यह भी पढ़ें :  Bihar Panchayat Election: मतपत्रों की छपाई कराएगा प्रशासन, सभी पदों के लिए होगा अलग-अलग रंग.

दूसरे चरण में जिला पार्षद सदस्य पद के लिए 1204 प्रत्याशी, पंचायत समिति सदस्य पद के लिए 6279 प्रत्याशी, मुखिया पद के लिए 6277 प्रत्याशी, ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए 41,405 प्रत्याशी और ग्राम कचहरी पंच पद के लिए 17,042 प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल किया है.

पुलिस मुख्यालय के अनुसार पर्याप्त संख्या में नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति और पेट्रोलिंग की जा रही है. नक्सल प्रभावित और संवेदनशील बूथों पर आयोग द्वारा तय किए गए मापदंड के आधार पर पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है. जानकारी के अनुसार संवेदनशील और नक्सली प्रभावित बूथों पर बिहार सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती की गई है. इसके अलावा तीन स्तरीय पुलिस बल के जवान तैनात किए गए हैं.

बता दें कि बिहार में 11 चरण में पंचायत चुनाव हो रहा है. पहले चरण के लिए वोटिंग 24 सितंबर को हुई थी. 59.85 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट दिया था. सबसे अधिक 62.50 प्रतिशत वोटिंग रोहतास में हुई थी और सबसे कम 56.69 प्रतिशत वोटिंग जहानाबाद में हुई थी. इसके अलावा औरंगाबाद में 62 प्रतिशत, गया में 60.50 प्रतिशत और कैमूर में 60.04 प्रतिशत मतदाताओं ने वोटिंग की थी.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page